राजस्थान के सट्टा बाज़ारों इस पार्टी को मान रहे हैं फेवरिट

जयपुर: राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अब ख़त्म हो गया है. हर तरफ़ चुनाव की बयार है, इस बीच राजस्थान विधानसभा चुनाव में किसकी जीत होगी इस बात को लेकर सट्टा-बाज़ार काफ़ी गर्म है. राजस्थान में विधानसभा के लिए दो पार्टियाँ मुख्य मुकाबले में मानी जा रही हैं जिनमें एक कांग्रेस है और दूसरी भाजपा. इस बार सट्टा बाज़ार की मानें तो कांग्रेस अच्छी स्थिति में है. सट्टा हर बात पर लग रहा है, इस बात पर भी कि मुख्यमंत्री कौन बनेगा.

सट्टेबाज़ी को लेकर अलग-अलग आंकड़े चल रहे हैं कोई कह रहा है कि 500 करोड़ रुपए तक लगे हैं तो कोई 5 हज़ार करोड़ तक. सट्टा अनुमान की मानें तो ऐसा लग रहा है कि कांग्रेस मज़बूत है. कांग्रेस के बारे में सट्टा बाज़ार कह रहा है कि ये १२५ से अधिक सीटें भी जीत सकती है जबकि भाजपा को बुरी हार का सामना करना पड़ सकता है. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में ऐसी ख़बरें छपी हैं कि सट्टा बाज़ार में भाजपा को 50 से भी कम सीटें दी जा रही हैं.

बात अगर मुख्यमंत्री के दावेदारों की करें तो सट्टा इसमें भी लग रहा है. कुछ सट्टेबाज़ सचिन पायलट पर दाँव लगा रहे हैं तो कुछ अशोक गहलोत पर. सचिन पायलट का भाव 25 से 30 पैसे तो अशोक गहलोत का 70 से 80 पैसे चल रहा है. अनुमान लगाने वाले कहते हैं कि सट्टा बाज़ार लगभग ठीक आंकलन करता है, ऐसे में भाजपा के लिए ख़बर चिंताजनक मानी जा सकती है. 2013 में राजस्थान में भाजपा की सरकार की भविष्यवाणी सही हुई थी तो वहीं 2014 के चुनाव में भाजपा की कुल सीटों का अनुमान भी सही निकला था. चुनाव में हालाँकि कहा जाता है कि कब क्या बदल जाए किसी को नहीं पता. अब तो खैर बहुत समय नहीं बचा है लेकिन चुनाव के दिन भी काफ़ी कुछ बदल जाता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.