गुजरात: राजकोट में फाड़े गए मुख्यमंत्री विजय रुपानी के पोस्टर, बीजेपी में नाराजगी

राजकोट: गुजरात विधानसभा चुनाव के चलते राजनीतिक दलों में पोस्टर वार शुरू हो गई है। लेकिन इस पोस्टर वार में बीजेपी नेता और राज्य के मुख्यमंत्री विजय रुपानी के 50 से ज्यादा पोस्टर और होर्डिंग्स को फाड़ने का मामला सामने आया है। दरअसल मंगलवार को सरदार पटेल जयंती के मौके पर राजकोट शहर में एसपीजी ग्रुप द्वारा रैली निकाली गई थी। इस रैली में शामिल कई युवकों ने शहर में लगे मुख्यमंत्री विजय रुपानी के पोस्टर को फाड़ दिए और हार्डिंग्स को क्षत्तिग्रस्त किया।

इन पोस्टर्स पर कमल का निशान और विजयी भव: लिखा है। राजकोट के कलवड़ रोड पर मुख्यमंत्री विजय रुपानी के पोस्टर फाड़े के मामले में बीजेपी कार्यकर्ता शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। अपनी शिकायत में, मनसुख वाघसिया ने कहा कि किसी ने कुटेच चौक और केकेवी हॉल के बीच स्थापित पोस्टर को मंगलवार को 11 बजे से पहले क्षतिग्रस्त किया है।

बताया जा रहा है कि इसके कुछ सीसीटीवी फुटेज भी मिले हैं। जिसके प्रशासन की ओर से सीसीटीवी के आधार पर पोस्टर फाड़ने की जांच की जा रही है। इस मामले पर बात करते हुए इंस्पेक्टर मनीष चांदवाडिया ने कहा है कि हम सीसीटीवी फुटेज की मदद से आरोपी की पहचान करने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन अब तक किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया गया है। पोस्टर फाड़े जाने से बीजेपी कार्यकर्ताओं में रोष देखा जा रहा है। बीजेपी इसके लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहरा रही है।
आपको बता दें कि राजकोट सीट को भाजपा का गढ़ माना जाता है और सीएम विजय रूपाणी के विशाल पोस्टर्स लगाए गए हैं। पश्चिम सीट से उपचुनाव में जीते विजय रूपाणी के फिर इसी सीट पर चुनाव लड़ने की संभावना है। वहीँ इस सीट पर उनके खिलाफ कांग्रेस के दिग्गज नेता इंद्रनील राजगुरु चुनाव मैदान में उतर सकते हैं। जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहा है वैसे-वैसे राजनीतिक गरमाने लगी है।
गौरतलब है कि दिसंबर में गुजरात में विधानसभा चुनाव होने वाले है, जिसके चलते राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर निशानेबाजी कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.