योगी सरकार की सरपरस्ती में हुआ कासगंज दंगा: रमेश दीक्षित

January 28, 2018 by No Comments

लखनऊ. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने कासगंज साम्प्रदायिक हिंसा के लिए भाजपा और संघ परिवार को सीधे जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि सरकार की सरपरस्ती में दंगे को अंजाम दिया जा रहा है। राकापा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रमेश दीक्षित ने कहा कि जिस संघ परिवार ने तिरंगे को कभी राष्ट्रीय ध्वज के रूप में कभी स्वीकार वह आज भगवा यात्रा निकाल कर साम्प्रदायिक हिंसा फैला रहे हैं । डॉ. दीक्षित ने कहा कासगंज में सरकार के संरक्षण में सांप्रदायिक हिंसा को अंजाम दिया जा रहा है । उन्होंने मांग की और कहा कि कासगंज हिंसा उच्चस्तरीय जाँच होनी चाहिए , दोषियों पर सख्त से सख्त कार्यवाही की मांग के साथ साथ भाजपा सांसद राजवीर सिंह की भूमिका की उच्चस्तरीय जाँच की मांग की । डॉ. दीक्षित ने भाजपा सांसद राजवीर सिंह द्वारा मृतक के अंतिम कार्यक्रम में जिस तरह भड़काऊ शब्धो का इस्तेमाल किया उससे साफ़ है कि तिरंगा यात्रा के नाम पर जो भगवा परेड की गयी थी वह पहले से ही रची बुनी गयी थी और पूरा रोड मैप संघ परिवार के निर्देश पर तैयार किया गया था ।

डॉ. रमेश दीक्षित ने कहा कि उपचुनाव से ठीक पहले दंगों की फ़सल राष्ट्रवाद के नाम पर खड़ी की जा रही है। नाम तिरंगा यात्रा का देकर भगवा यात्रा निकाली जाती है, अल्पसंख्यकों के बीच जाकर उनकी राष्ट्रीयता को गाली दी जाती है। वह अगर तिरंगा फहरा कर गणतंत्र का जश्न मनाते हैं तो वहाँ संघ परिवार जाकर उनसे भगवा झंडा फहराने की बात करते हैं। उनके साथ गाली-गलौज, मार-पीट किया जाता है ताकि ये लोग भी उग्र हों। फिर पूरे शहर में अल्पसंख्यकों के दुकान-मकान उनकी धार्मिक स्थान सब को आग लगाके ख़त्म किया जा सके, और फिर इससे संघ परिवार अपनी राजनीति की दुकान चला सके।

उन्होंने आगे कहा कि गणतंत्र दिवस पर इस तरह की घटना से पूरा मुल्क शर्मसार हुआ ।शासन की लापरवाही के चलते कासगंज के हालात मुजफ्फरनगर से भी बदतर हो गए है । मुख्यमंत्री योगी प्रदेश में कानून व्यवस्था बनाये रखने में पूरी तौर पर विफल साबित हो चुके है । सरकार सौहार्द कायम करने में फ़ैल हुयी है । चुनाव के मद्देनज़र सरकार सांप्रदायिक आधार पर ध्रुवीकरण करने की कोशिश में लगी है ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *