रमजान पर ओवैसी ने दिया सबसे अलग बयान,भाजपाई भी हुए खुश,बोले-ये है असली मुसलमान

March 11, 2019 by No Comments

भारतीय चुनाव आयोग ने आने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर तारीखों की घोषणा कर दी गई है।यह लोकसभा चुनाव 7 चरणों में करवाए जाएंगे और चुनाव के चलते मतदान प्रक्रिया 11 अप्रैल से 19 मई तक चलने वाली है।गौरतलब है कि जिस महीने चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव का रमजान पड़ रहे हैं।
जिसके चलते तृणमूल कांग्रेस और आम आदमी पार्टी समेत कई विपक्षी दलों ने केंद्र सरकार के साथ-साथ चुनाव आयोग पर भी निशाना साधा है।इसी कड़ी में आल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल ए मुस्लिमीन के अध्यक्ष और हैदराबाद से लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी चुनाव प्रक्रिया पर बड़ा बयान दिया है।असदुद्दीन ओवैसी ने रमजान में मतदान को लेकर जारी विवाद के बीच अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा है कि चुनाव एक बड़ी प्रक्रिया है।

असदुद्दीन ओवैसी


चुनाव में विवाद खड़े करने वाले इस देश के मुसलमानों को नहीं समझते।एक मुसलमान होने के नाते वो रमजान में चुनाव तारीखों का स्वागत करता हैं। उन्होंने कहा कि वो रमजान में रोजा रखेंगे और वोट डालेंगे।बता दें कि चुनाव आयोग द्वारा लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान करने के बाद कई विपक्षी दलों ने रमजान के महीने में चुनाव करवाने को लेकर आपत्ति जताई है।
विपक्षी दलों का मानना है कि अगर रमजान के महीने में चुनाव होते हैं तो इससे चुनाव के नतीजे प्रभावित होंगे।इसके पीछे का सबसे बड़ा कारण देश की कुल 543 में से 169 लोकसभा सीटों पर रमजान के दौरान मतदान कराना है।रमजान के महीने के दौरान मतदान वाले राज्यों के ज्यादातर उत्तर प्रदेश, बिहार,पश्चिम बंगाल और दिल्ली की सीटें हैं।

असदुद्दीन ओवैसी


बता दें कि जम्मू-कश्मीर में लोकसभा चुनाव के साथ-साथ विधानसभा चुनाव भी होने वाले थे।लेकिन अब इसे टाले जाने पर राज्य के पूर्व फारूक अब्दुल्ला ने बड़े सवाल उठाए हैं।नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि राज्य में सभी राजनीतिक दल विधानसभा चुनाव कराने के पक्ष में हैं। उनका मानना है कि अगर लोकसभा चुनाव के लिए माहौल ठीक है तो फिर विधानसभा चुनाव कराने में क्या परेशानी है।
अगर यहाँ पर पंचायत चुनाव कराए जा सकते हैं तो फिर ये विधानसभा चुनाव होने क्यों नहीं दिए जा रहे?गौरतलब है कि बीते साल जम्मू-कश्मीर में बीजेपी ने पीडीपी के साथ गठबंधन तोड़ दिया था। जिसके बाद राज्य में सरकार गिर गई थी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *