सपा और कांग्रेस से गठबंधन के लिए तैयार हैं: मायावती

मेरठ: मायावती और मुलायम सिंह यादव दो ऐसे नेता हैं कि जैसे ही आप उन्हें ख़ारिज करने लगते हैं, ये फिर उठ आते हैं. बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपने पुराने तेवर दिखाते हुए आज मेरठ में “मंडल स्तरीय कार्यकर्त्ता सम्मलेन” में कहा कि वो आने वाले लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन को तैयार हैं.

बसपा सुप्रीमो ने सहारनपुर दंगे के बारे में कहा कि दलितों और ठाकुरों के बीच हुए इस जातीय दंगे के लिए भाजपा ज़िम्मेदार है. उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा उनकी हत्या करने की साज़िश रच रही है.

8 जुलाई को राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफ़ा देने वालीं मायावती ने कहा कि वो सहारनपुर दंगे पर बात कर रही थी और उन्हें बोलने नहीं दिया गया.उन्होंने कहा कि EVM में गड़बड़ी करके भाजपा ने चुनाव जीता है.

मायावती ने कहा कि वो कांग्रेस और सपा से गठबंधन के लिए तैयार हैं लेकिन गठबंधन से पहले सीटों के बँटवारे की बात होना ज़रूरी है.समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी गठबंधन को लेकर सकारात्मकता दिखाई है.

बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी में पुरानी राजनीतिक प्रतिद्वंदी रहे हैं. ऐसे में दोनों का साथ आना यूं तो मुशकिल माना जा रहा था लेकिन राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने लगातार कोशिशें करके इसे मुमकिन कर दिया है.

गठबंधन होने की स्थिति में 2019 का चुनाव भाजपा के लिए मुश्किल हो जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.