रोहिंग्या मुद्ददे पर बंगलादेश ने म्यांमार एम्बेसी के टॉप अधिकारी को तलब किया

ढाका: बांग्लादेश ने म्यांमार को उसके एयरस्पेस का दुरूपयोग करने के मामले में चेतावनी दी है. बांग्लादेश ने कहा कि म्यांमार के ड्रोन और हेलीकाप्टर तीन बार उसके एयरस्पेस का उल्लंघन कर चुके हैं. अल-अरबिया की रिपोर्ट के मुताबिक़ सितम्बर 10, 12 और 14 को ऐसा किया गया. इस मामले में बांग्लादेश सरकार ने म्यांमार एम्बेसी के आला अधिकारी को तलब किया है.

म्यांमार सरकार के तर्जुमान ने बांग्लादेश की शिकायत पर कहा है कि उनके पास ऐसी कोई सूचना नहीं है. तर्जुमान ज़ाव हते ने रायटर्स से कहा कि इस वक़्त हम दोनों देश रिफ्यूजी क्राइसिस से जूझ रहे हैं. हमें एक दूसरे का साथ अच्छी समझदारी से देने की ज़रुरत है”

रोहिंग्या रिफ्यूजी क्राइसिस के बाद पहले ही म्यांमार और बांग्लादेश के रिश्ते ख़राब हो चुके हैं ऐसे में म्यांमार अगर कोई और उत्तेजक कार्य करेगा तो रिश्ते और बिगड़ सकते हैं.

रोहिंग्या रिफ्यूजी संकट

म्यांमार के उत्तरी प्रांत रखीने में म्यांमार की सेना पर इलज़ाम है कि वो रोहिंग्या मुसलमानों का नरसंहार कर रही है. इसको लेकर विश्व भर के नेताओं ने म्यांमार सरकार और स्टेट काउंसलर औंग सैन सू की की आलोचना की है. मुश्किल परिस्तिथियों में 4 लाख लोग बांग्लादेश में रिफ्यूजी के तौर पर रह रहे हैं. इस क्राइसिस में सिर्फ़ मुसलमान ही नहीं फँसे हैं बल्कि तक़रीबन 30 हज़ार ग़ैर-मुस्लिम रोहिंग्या भी इस त्रासदी की वजह से दर-दर भटक रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.