मोदी सरकार से परेशान हुए युवाओं ने शुरू किया #RozgarMangeIndia, जुमलेबाजी नहीं रोज़गार चाहिए

March 12, 2018 by No Comments

मोदी सरकार ने जिन दावों की दलीलें देकर साल 2014 में जनता से वोट हासिल किए थे। आज वही जनता उन दावों को पूरा न करने के लिए मोदी सरकार के खिलाफ आंदोलन कर रही है। एक तरफ जहाँ देश के किसान सड़कों पर उत्तर आये हैं, वहीँ देश के युवा उन्हें बेहतर शिक्षा और रोज़गार ने न देने के कारण सरकार का विरोध कर रहे है।

महाराष्ट्र में जहाँ 35000 किसान इक्क्ठा होकर अपनी मांगे पूरी करवाने के लिए विधानसभा का घेराव कर रहे हैं। वहीँ देश के युवा सरकार से रोज़गार की मांग कर रहे हैं। सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर #KisanLongMarch और #RozgaarMangeIndia जैसे हैशटैग चलाये जा रहे हैं।

सुरक्षित और प्रतिष्ठित रोजगार के लिए ‘रोज़गार मांगे इंडिया; नाम के कैंपेन से अभियान शुरू किया गया है।  एसएससी एग्जाम घोटाले के खिलाफ आवाज़ उठा और सरकार से रोज़गार की मांग कर रहे युवाओं ने शिक्षकों, आशा कार्यकर्ता, मीडिया, आईटी ने आज के सम्मेलन को संबोधित किया और आने वाले दिनों में कार्रवाई की घोषणा की।
दिल्ली के मुखर्जी नगर में 17 मार्च को इस मुद्दे पर पहली जान सुनवाई का आयोजन किया जा रहा है।  अब और फर्जी वादे और जुमलेबाजी नहीं चलेगी। सभी के लिए सुरक्षित, नियमित और प्रतिष्ठित रोजगार चाहिए। इस अभियान के तहत नियमित, सुरक्षित और सम्मानजनक रोजगार की मांग के साथ देशभर के युवा एकजुट  होने की अपील की गई है।

इसके साथ CPI-ML के नेता दीपांकर भट्टाचार्य से इस अभियान को समर्थन देते हुए सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है कि बेरोजगारी के खिलाफ # यग इंडिया का संघर्ष, कर्ज और उचित कीमतों से स्वतंत्रता के लिए किसानों की लड़ाई, और भूमि के अधिकारों और खाद्य सुरक्षा के लिए ग्रामीण गरीबों की लड़ाई, फासीवाद को हराने के लिए ये तीनों शक्तिशाली वर्ग एक साथ आ गया हैं। #KisanLongMarch #RozgarMangeIndia

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *