काबा का हवाला देकर आरएसएस नेता ने राम मंदिर बनाने को लेकर कहीं ये बात…

October 29, 2018 by No Comments

नई दिल्ली-सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामले पर सुनवाई से ठीक पहले आरएसएस नेता इंद्रेश कुमार ने टिप्पड़ी की है.उन्होंने कहा , जिस तरह काबा, हरमंदिर साहब और वेटिकन को बदला नहीं जा सकता है, ठीक वैसे ही राम जन्मस्थान भी नहीं बदला जा सकता है.

गौरतलब है किसुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामले पर 29 अक्टूबर से अंतिम सुनवाई शुरू हो रही है. इसी बीच संघ प्रचारक इंद्रेश कुमार ने राम मंदिर पर बयान दिया है.उन्होंने साफ तौर पर कहा कि, राम जन्मस्थान नहीं बदला जा सकता है.यह पूर्ण सत्य है.बता दे इससे पहले भी कई आरएसएस और भाजपा नेताओ ने ऐसी ही बयानबाज़ी की है.

बता दे कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (एबीएपी) के संतों ने भी मोदी सरकार को राम मंदिर निर्माण के लिए अल्टीमेटम दे दिया है.अखाड़ा परिषद का कहना था कि, अगर 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले मंदिर निर्माण का कार्य शुरू नहीं होता है तो वे अन्य विकल्प की तलाश करेंगे.

राम जन्मभूमि विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में आज से डे-टू-डे सुनवाई होगी. हालांकि, इस मुद्दे पर नेताओं और राजनीतिक दलों की बयानबाजी बदस्तूर जारी है. ऐसे में सुप्रीम कोर्ट की कार्यवाही पर देशभर की नजरें टिकी हैं.दरअसल, राम जन्मभूमि विवाद भारतीय राजनीति की धुरी बन चुकी है. सोमवार से देश की सबसे बड़ी अदालत में होने वाली सुनवाई से ठीक पहले इस मसले पर सियासत और तेज हो गई है.

बता दे कि राममंदिर विवाद वर्षो पुराना है लेकिन चुनाव कारीब आते ही विभिन्न राजनीतिक दल रोटियां सेंकना शुरू आकर देते है.अगले वर्ष लोकसभा चुनाव को देखते हुए राम मंदिर पर बयानबाज़ी तेज़ हो गयी है.

जहाँ प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस का कहना है सुप्रीम कोर्ट जो भी फैसला करना चहिये उसका सभी को सम्मान करना चाहिए वही भाजपा के कई नेताओ ने खुलेआम ये कहा है कि अगर राम मंदिर पर फैसला विपरीत आया फिर कानून बनाकर राम मंदिर का निर्माण करेंगे.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *