'सहाबा नही होते थे बीमार' अगर आप भी ये अमल करने लगे फिर बीमार नही होगे, मौलाना शाकिर नूरी ने फ़रमाया

January 4, 2019 by No Comments

दोस्तों अस्सलाम वालेकुम रहमतुल्लाह बरकातहू दोस्तों आज हम आपके लिए एक ऐसी बात लेकर आए हैं जिसको सुनकर आपको बहुत नफा होगा दोस्तों रसूल अल्लाह सल्लल्लाहू अलैही वसल्लम के सहाबा आखिर क्यों बीमार नहीं पड़ते थे उनके जिंदगी में बहुत कम बीमारियां होती थी तो दोस्तों इस के पीछे क्या वजह थी की सहाबा बीमार नहीं पड़ते थे आज के दौर में हर घर में बीमारी है हर घर के हर इंसान को कोई ना कोई बीमारी लगी हुई है.
कोई शुगर से परेशान है कोई ब्लड प्रेशर से परेशान है कोई डिप्रेशन से परेशान है तो दोस्तों आखिर इसकी क्या वजह है कि सहाबा इस तरह की बीमारियों से परेशान नहीं होते थे आइए दोस्तों आपको बताते हैं कि आखिर क्या वजह थी कि सहाबा बीमार नहीं पड़ते थे दोस्तों अल्लाह के हबीब रसूल अल्लाह सल्लल्लाहू अलैही वसल्लम ने खाने के हवाले से जितनी भी बातें बताएं उस पर खुद भी अमल किया और लोगों को भी इसी अमल की दावत दी.

google


अल्लाह के नबी ने साहब को भी इसी अमल की दावत दी और सहाबा उस अमल पर खरे उतरे जिसके बाद दोस्तों उन्हें बीमारियां नहीं होती थी क्योंकि अल्लाह के नबी जिस तरीके पर खाना खाने को बता कर गए हैं उनके तरीके पर अगर खाना खाया जाए तो बीमारियां नहीं होती है.
दोस्तों एक मर्तबा मदीना मुनव्वरा में एक डॉक्टर आया और उसने कहा कि मैं मदीना के लोगों का इलाज करूंगा दोस्तों 6 महीने तक वह डॉक्टर वहां रहा लेकिन उसने कोई भी मरीज नहीं पाया और वह मदीना मुनव्वरा छोड़ कर जाने लगा तो लोगों ने कहा कि क्यों जा रहे हो उसने जवाब दिया कि जब कोई मरीज ही नहीं आता है तो मैं यहां क्या करूंगा.

google


मैं किस का इलाज करूंगा फिर उसके दिल में ख्याल आया कि एक मतवा रसूलल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम से पूछा तो जाए कि आपने अपने मानने वालों को क्या सिखलाया है कि वह बीमार नहीं पड़ते चुनांचे वह रसूल अल्लाह सल्लल्लाहू अलेही वसल्लम के पास गया और उसने सरकारी दो आलम आका मक्खी मदनी सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम से पूछा कि अल्लाह के हबीब आपने मदीने वालों को क्या सिखा दिया है.
जिसकी वजह से वह बीमार नहीं पड़ते हैं आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने जवाब दिया कि मैंने मदीने वालों को एक नुस्खा बता दिया है जिस पर वह अमल करते हैं तो उसने पूछा कि वह नुस्खा क्या है तू रसूलल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फरमाया कि वह नुस्खा यह है कि जब भूख लगे तब खाओ और जब भूख बाकी हो तो हाथ खींच लो यानी कि पेट भर कर के ना खाओ पेट का 3 हिस्सा खाओ और एक हिस्सा खाली रहने दो इसी नुस्खे की वजह से वह लोग एकदम स्वस्थ रहते हैं और बीमार नहीं पड़ते हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *