अखिलेश-शिवपाल के बीच टक्कर में मुलायम की बहुएँ भी होंगी आमने-सामने

November 14, 2018 by No Comments

लखनऊ: समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के गठन ने बाद शिवपाल यादव ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं. शिवपाल यादव और उनके सहयोगियों ने प्रदेश के अलग-अलग शहरों में पोस्टर, बैनर और होर्डिंग लगाने शुरू कर दिए हैं. सूत्रों के अनुसार आगामी लोकसभा चुनाव में अपने भतीजे और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को कड़ी टक्कर देने के लिए शिवपाल यादव ने कमर कस ली है. शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि आने वाले लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी यूपी में सबसे बड़े दल के रूप में उभरकर सामने आएगी। फिलहाल 43 समान विचारधारा वाले दल उनके साथ हैं। वहीं मुलायाम सिंह के कुनबे में बिखराव होता नजर आ रहा है।

ऐसे में शिवपाल और अपर्णा साथ नजर आए है उससे राजनीतिक गलियारों में कयास लगाए जा रहे हैं कि डिंपल यादव और देवरानी अपर्णा यादव भी आमने सामने हो सकते हैं. इससे तय है कि लोकसभा चुनाव में अखिलेश यादव के लिए कांग्रेस, बसपा और भाजपा के साथ खुद के घर में भी बड़ी चुनौती होगी, और उससे पार पाना उनके लिए इतना आसान नहीं होगा.दंगल में जहां पहलवान कुश्ती के दांवपेच आजमाने में मशगूल थे वहीं चाचा शिवपाल के साथ खुलकर आईं अपर्णा ने नए सियासी संकेत दिए हैं।

चर्चा हो रही है कि राजनीति के अखाड़े में अब मुलायम के बेटे अखिलेश और भाई शिवपाल के आमने-सामने जोर आजमाइश करने के साथ ही कुनबे में बिखराव होगा। मुलायम की बड़ी बहू डिंपल यादव का सामना आने वाले दिनों में देवरानी अपर्णा से भी हो सकता है। एक मंच पर जिस तरह शिवपाल और अपर्णा नजर आए उससे राजनीतिक गलियारों में तरह-तरह के कयास लगाए जाने लगे हैं।वजह साफ है कि समाजवादी पार्टी को खड़ा करने के लिए शिवपाल यादव ने मुलायम सिंह यादव के साथ करीब 40 वर्ष दिए हैं. पार्टी से निष्कासित किए जाने के बाद शिवपाल यादव ने अखिलेश यादव के हाथों काफी अपमान सहा है जिससे पार्टी का एक बड़ा धड़ा नाराज है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *