जब कन्हैया कुमार ने संबित पात्रा से कहा, “मोदी-मोदी करते रहिये, वो आपके बाप होंगे, देश के नहीं”.

December 10, 2017 by No Comments

दिल्ली की जेएनयूएसयू के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार हमेशा बीजेपी पर हावी रहे हैं। इस बार कन्हैया कुमार ने बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा को न्यूज़ 18 के शो चौपाल में इस तरह से घेरा कि उनकी बोलती बंद करा दी।
इस शो में देश के इतिहास को बहस का मुद्दा बनाया गया था। क्यूंकि आज के वक़्त में देश के इतिहास के साथ छेड़छाड़ की जा रही है। उसे फिर से लिखने की कोशिशें हो रहे हैं।
इस दौरान शो के एंकर ने सवाल किया कि केंद्र सरकार पर आरोप है कि इतिहास का तोड़ा-मरोड़ा जा रहा है। राजस्थान के शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी का कहना है कि ऐसा इसलिए किया जा रहा है कि देश में कोई कन्हैया कुमार जैसा न बने।
जिसपर संबित पात्रा ने जवाब दिया कि इस भारत एक लोकतांत्रिक देश हैं, जिसमें सबके विचार अलग हो सकते हैं। कन्हैया कुमार से लोग इसलिए नाराज होते हैं क्यूंकि वह इंडियन आर्मी को रेपिस्ट बताते हैं।
संबित ने कहा की कन्हैया कुमार काफी बार कह चुके हैं कि कश्मीर में आर्मी महिलाओं का रेप करती है। तब हमें तकलीफ होती है, इसलिए ऐसा लगता है कि ऐसी शिक्षा नहीं होनी चाहिए। इसके साथ संबित ने पात्रा ने कन्हैया पर अफजल गुरु की बरसी मनाने और देश विरोधी नारे लगाने का आरोप लगाया और कहा की कन्हैया कहते हैं कि मैं अपनी पत्नी और बच्चे का नाम भारत माता की जय रखूँगा।
संबित अपने साथ कुछ अखबार की कटिंग लाये थे।

जवाब में कन्हैया ने कहा कि उनका भाई देश के लिए शहीद हुआ है। परिवार के 16 लोग सेना में हैं. उनके घर में स्वतंत्रता सेनानी का पेंशन आया है। क्या संबित पात्रा के घर से कोई शहीद हुआ है? कन्हैया ने कहा कि अख़बार में छपी हर बात सही नहीं होती।
इस दौरान जैसे ही कन्हैया ने आरएसएस का नाम लिया तो संबित भड़क गए और कन्हैया को जवाब देने से रोकने लगे। न्यूज़ एंकर ने भी उन्हें चुप कराने की कोशिश की। लेकिन वह बार एक ही सवाल पूछते रहे।
इस दौरान संबित पात्र बार-बार मुद्दे से भटकते हुए नजर आये। क्यूंकि जब कन्हैया सवाल पूछ रहे थे तो संबित पात्रा तथ्यों के साथ उसका जवाब नहीं दे पा रहे थे। कन्हैया ने पुछा कि अगर उन्होंने अफ़ज़ल गुरु के समर्थन में नारे लगाए, इंडियन आर्मी के खिलाफ बोला है तो अभी तक उनके खिलाफ चार्ज शीट दाखिल क्यों नहीं की गई। इसपर संबित उनके सवाल को नजरअंदाज कर उनपर आरोप लगा रहे हैं की उन्होंने चीन से पैसा लिया है।
इस दौरान संबित पात्रा ने दिल्ली हाई कोर्ट के वर्डिक्ट की एक कॉपी पढ़कर कन्हैया को घेरने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि देश के टुकड़े कराने की चाहत रखने वालों को क्या इस देश में हीरो बनाया जाएगा। इस दौरान संबित अपने पॉइंट को प्रूव करने की तमाम कोशिश की। उन्होंने कहा कि कन्हैया जैसे लोग इस शो में आकर हमसे सवाल पूछ रहे हैं। जिसपर कन्हैया ने कहा कि चिल्ला कर बोलने से आपकी बात सच नहीं मानी जा सकती। चिल्ला कर ओएनजीसी के डायरेक्टर बन गए हैं, अब क्या मंत्री बनेगे ?
कन्हैया ने संबित पुछा कि देश के लिए जीने- मरने की बातें करते हैं आप, लेकिन नाम तो मोदी जी का जपते रहते हैं। मोदी जी आपके चाचा हैं क्या। इसपर संबित पात्रा ने कहा कि वो इस देश के बाप हैं। कन्हैया ने संबित को जवाब देते हुए कहा कि वह आपके बाप होंगे, इस देश के बाप नहीं है।  इसके बाद कन्हैया और संबित पात्रा में इतिहास के मुद्दे पर तीखी बहस हो गई। कन्हैया कहना है इतिहास में दिए तथ्यों के मुताबिक देखा जाए तो आरएसएस की विचारधारा और शुरुआती पहनावा मुसोलिनी और फासिज्म से प्रेरित रहा है, ये बात संघ के शुरुआत नेताओं में साहित्य में मिलती भी है।

इसके जवाब में जब संबित अपना जवाब शुरू किया तो आरोप प्रत्यारोपों का सिलसिला फिर शुरू हो गया।
कन्हैया को बार-बार राष्ट्रविरोधी करार देने पर उन्होंने संबित से पुछा की आप बता दीजिये की आप गांधी को मानते हैं या गोडसे को। कन्हैया के इस सवाल को संबित लगातार टालते रहे।

संबित ने कन्हैया को भारत माता की जय के नारे पर उलझा दिया लेकिन कन्हैया ने सहज ही भारत माता की जय कहा और हुए संबित पात्रा से जब गोडसे पर विचार जानने चाहे तो वह विषय से हटते हुए दूर निकल गए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *