सारा अली ख़ान की बॉलीवुड में लगी लॉटरी

November 3, 2018 by No Comments

बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता सैफ अली खान और अर्पिता उनकी उनकी पूर्व पत्नी अमृता सिंह की बड़ी बेटी सारा अली खान के बॉलीवुड डेब्यू की चर्चा फिल्मी गडरिया गलियारों में काफी दिनों से है ।पहले खबर जोरों पर थी कि सारा अली खान का बॉलीवुड डेब्यू रोहित शेट्टी की फिल्म सिंबा से होगी जिसके लीड एक्टर रणबीर सिंह है। लेकिन इन सारी बॉलीवुड गॉसिप्स के बीच जो खबर आई है ,उसके मुताबिक सारा अली खान अभिषेक कपूर की फिल्म केदारनाथ से अपना बॉलीवुड डेब्यू करेंगी ।इस फिल्म में इनके ऑपोजिट अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत होंगे । आप तप जानते जमहि है कि,सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म धोनी द अनटोल्ड स्टोरी सुपरहिट हुई थी। जिसके बाद उन्होंने दो चार फिल्में ऐसी की जो बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाई नहीं कर पाई ,हालांकि इन फिल्मों में शुशांत के एक्टिंग की तारीफें बहुत हुई हैं।

यही नहीं फिल्म डेब्यु के पहले से ही सारा अली खान अपनी खूबसूरती से बॉलीवुड की कुछ नई हीरोइन जैसे जानवी कपूर, आतिया शेट्टी आदि से पहले ही चर्चाओं में पीछे छोड़ चुकी और कहा जा रहा है कि एक्टिंग भी इनकी दमदार है ।जिसका पुख्ता सुबूत उनकी नई फिल्म साइन करने की खबर में साबित है, उनकी फिल्म केदारनाथ के टीचर को देख कर कुछ एक डायलॉग को सुनकर डायरेक्टर इम्तियाज अली इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने फॉरेन उन्हें अपनी बड़ी बजट की फिल्में कार्तिक आर्यन के अपोजिट लीड रोल में साइन कर लिया है ।उनका कहना है ,वे केदारनाथ फिल्म के टीजर में ही सारा अली खान की एक्टिंग से बहुत प्रभावित हो गए यह एक बड़े बजट की फिल्म है।

आपको बताते चलें की जिस फ़िल्म मे कार्तिक आर्यन दो ब्लॉकबस्टर फिल्म दे चुके हैं , जिसमे एक प्यार का पंचनामा और दूसरी सोनू की टीटू की स्वीटी है। इनकी एक्टिंग की भी तारीफ हर तरफ होती ही है। आपको बता देंगे फिल्म केदारनाथ 30 नवंबर को रिलीज हो रही है और जहां तक खबर है कि इनकी दूसरी फिल्म सिंबा भी 28 नवंबर को रिलीज हो रही है । सारा अली खान और सुशांत सिंह राजपूत केदारनाथ की सफलता के लिए इस फिल्म की शूटिंग से पहले ही दोनों केदारनाथ के दर्शन कराए गौरतलब है कि सुन का ट्रेलर लॉन्च होते ही विवाद शुरू हो गया है।

फिल्म की कहानी और कुछ सीन पर आपत्ति जताई गई है ।उत्तराखंड में विश्व हिंदू परिषद ने केदारनाथ फिल्म को हिंदुओं की आस्था पर कुठाराघात बताते हुए ,इसका टाइटल बदलने की मांग की है ।उनकी कहने का आरोप है कि, फिल्म की टीआरपी बढ़ाने के लिए और अधिक पैसे कमाने के लिए लेखक और फिल्म निर्देशकों ने हिंदू धर्म की आस्था पर कुठाराघात करने में कोई कसर नहीं छोड़ी ।इसके पहले भाजपा ने भी फिल्म को लेकर विरोध किया उनका कहना है कि ,फिल्म मजहब विशेष के नायक और हिंदू नायिका को चुनकर एक बार फिर हिंदू धर्म की आस्था को जोड़ने का प्रयास किया गया है ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *