सऊदी क्राउन प्रिंस सलमान ने ख़ुमैनी को बताया हिटलर

March 16, 2018 by No Comments

मिडिल-ईस्ट क्षेत्र में सऊदी अरब और ईरान की दुश्मनी काफी वक़्त से चली आ रही है। दोनों ही देशों में इस्लाम की अलग-अलग पंथों का प्रभुत्व है। सऊदी अरब में जहाँ सुन्नी प्रभाव में हैं तो वहीं ईरान में शिया। बीते कुछ सालों में दोनों देशों के बीच सीरिया और यमन में हुए युद्ध के चलते भी तनातनी बढ़ गई है। इसी कड़ी में सऊदी के क्राउन प्रिंस का बड़ा बयान सामने आया है। सऊदी अरब ने चेतावनी दी है कि अगर ईरान ने परमाणु बम बनाया तो वह भी ऐसा करेगा।

क्राउन प्रिंस ने अमरीकी चैनल सीबीएस न्यूज़ से कहा, ”हमारा देश परमाणु हथियार नहीं रखना चाहता लेकिन इस बात में भी कोई शक़ नहीं कि अगर ईरान ने परमाणु बम बनाया तो हम भी जितना जल्दी हो सकेगा ऐसा करेंगे। सऊदी प्रिंस सलमान का ये इंटरव्यू 18 मार्च को अमेरिका की राज्य यात्रा के दौरान प्रसारित किया जाएगा। बिन सलमान ने आगे कहा कि, “हम परमाणु हथियारों का अधिग्रहण नहीं करना चाहते लेकिन, अगर ईरान एक बम बनाता है, तो हम भी जल्द ही भविष्य में ऐसा करेंगे।

इस इंटरव्यू में प्रिंस सलमान ने नाज़ी जर्मनी के उत्थान के दौरान ईरान के नेता अली खामेनेई की तुलना एडॉल्फ हिटलर करने पर भी सफाई दी है। उन्होंने कहा है की खामनेई मध्य पूर्व में अपनी अलग ही योजनाओं पर काम करना चाहते हैं, जिस तरह से हिटलर अपने वक्त में करते थे।

ईरान अपना विस्तार करना चाहता है वह मिडिल ईस्ट में ही अपनी परियोजना का निर्माण करना चाहता है बिलकुल हिटलर की तरह जिस तरह वह उस वक़्त विस्तार करना चाहता था। तब पूरा यूरोप हिटलर के खतरनाक मंसूबो से अंजान था। उन्हें ये नहीं मालूम था की वे कितने ख़तरनाक साबित होंगे। सऊदी अरब इस तरह के मंजर को मिडिल ईस्ट में नहीं देखना चाहता।
इसके साथ उन्होंने सऊदी अरब की अर्थव्यवस्था को ईरान से बड़ा बताया है। जिसे और मज़बूत करने के लिए बड़े स्तर में बदलाव हो रहे हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *