सऊदी शाह और क्राउन प्रिंस ने पत्रकार के परिवार से की मुलाक़ात

October 24, 2018 by No Comments

सऊदी अरब के शाह सलमान और शहजादे मोहम्मद बिन सलमान ने इस्तांबुल की सऊदी कांसुलेट में मा-रे गए पत्रकार जमाल खाशोग्गी के परिवार के सदस्यों से मुलाकात की। सरकारी समाचार एजेंसी ‘एसपीए’ ने इस बारे में एक तस्वीर साझा की है. खबर के अनुसार शाह सलमान और क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने परिवार के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की. खाशोग्गी की दो अक्टूबर को इस्तांबुल स्थित उसके वाणिज्य दूतावास के दौरे के दौरान हत्-या कर दी गई थी।

इस बारे में तुर्की ने कड़ा रुख़ अपनाया हुआ है. तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा,खाशोग्गी को मा-रने की कई दिन से थी साज़िश उधर तुर्की के राष्ट्रपति ने मंगलवार को कहा कि सऊदी अरब के अधिकारियों ने कई दिन की योजना के बाद इस्तांबुल वाणिज्य दूतावास में पत्रकार जमाल खाशोग्गी की हत्-या कर दी। हालांकि सऊदी अरब ने इसके विपरीत यह सफाई दी थी कि पत्रकार की मौ-त एक दुर्घटना मात्र है।

तुर्की के राष्ट्रपति ने मांग की कि सऊदी अरब को इसमें शामिल सभी लोगों की पहचान बतानी चाहिए, चाहे वे किसी भी पद पर हों। तुर्की के राष्ट्रपति रज्जब तैयब एर्दोआन ने कहा कि वह चाहते हैं कि वह चाहते हैं कि हिरासत में लिए गये 18 संदिग्धों पर तुर्की की अदालतों में मुकदमा चलने की इजाजत दे। इससे तुर्की और सऊदी अरब की सरकार के बीच तनाव गहराता दिख रहा है। सऊदी सरकार ने कहा कि वह अपनी खुद की जांच कर रही है और इसमें शामिल लोगों को दंडित करेगी।

तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘सऊदी अरब ने हत्या की बात कबूल करके एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। फिलहाल हम उम्मीद करते हैं कि वे जिम्मेदार लोगों को खुलकर सामने लाएं, चाहे कोई ऊंचे से ऊंचे पद पर हो या निचले पद पर. उन्हें न्याय के कठघरे में लाया जाए। ’’

ग़ौरतलब है कि सऊदी अरब की सरकार ने आख़िरकार ये मान लिया है कि पत्रकार जमाल खाशोग्गी की ह्त्-या कांसुलेट के अंदर ही हुई है. सऊदी सरकार ने रॉयल कोर्ट एडवाइजर अल क़हतानी और डिप्टी इंटेलिजेंस चीफ़ अहमद असीरी को बर्ख़ास्त कर दिया है. इस मामले में तुर्की ने कड़ा रुख़ अपनाया हुआ है. तुर्की की माँग है कि वरिष्ठ पत्रकार की ह्त्-या से जुड़े मामले की क़ानूनी प्रक्रिया तुर्की में ही चले.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *