नीतीश-गुट के बड़े नेता हैं नाराज़; क्या एक और बार टूटेगी जदयू?

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जदयू में फूट की एक बार फिर ख़बर आ रही है. वरिष्ट नेता शरद यादव ने बग़ावत का एक मोर्चा तो खोला हुआ ही था. अब ख़बर है कि नीतीश गुट के एक बड़े नेता पार्टी से नाराज़ हैं.सूत्रों से पता चला है कि एक वरिष्ट नेता इस बात से काफ़ी नाराज़ हैं कि भाजपा से गठबंधन करना पड़ा है.

हालाँकि वो किसी तरह का विद्रोह करने का मन नहीं बनाए हुए हैं. इसके बावजूद भी ये पार्टी के लिए घातक सिद्ध होता जा रहा है क्यूँकि नीतीश गुट के अन्दर एक और गुट के उदय होने से पार्टी में रही सही एकता भी जाती रहेगी. इस बात का एहसास नीतीश को भी है कि उनके आस पास के नेता ही उनसे नाराज़ हैं लेकिन वो फ़िलहाल इस मुद्दे पर नेताओं के बीच कोई चर्चा नहीं चाहते हैं. मुख्यमंत्री को लगता है कि अगर मुद्दे की चर्चा होना बंद हो जाएगा तो शायद उनकी थोड़ी साख बची रहे. असल में जदयू के अधिकतर नेता वैचारिक तौर पर सेक्युलर हैं और इस वजह से उन्हें भाजपा के साथ जाना समझ नहीं आ रहा है.

सूत्रों के मुताबिक़ वरिष्ट नेता सांसद हैं और इस बात की चर्चा कर रहे हैं कि कैसे इस असमंजस को दूर किया जाए और क्या कोई फ़ैसला लिया जा सकता है. हालाँकि प्राइवेट डिस्कशन में भी पार्टी छोड़ने की बात नहीं हो रही है लेकिन ऐसा ज़रूर है कि पार्टी के भीतर एक क़िस्म की अनबन है.

2019 लोकसभा चुनाव में पार्टी की स्थिति को भी अच्छा नहीं कहा जा रहा है. नीतीश गुट के नेता भी इस बात को बखूबी समझ रहे हैं कि इस बार जो संकट आया है उसे सुलझाना आसान नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.