गुजरात CM की रैली में शहीद की बेटी को घसीटा गया; राहुल ने कहा ‘शर्म कीजिये’

December 2, 2017 by No Comments

भाजपा के लिए फ़िलहाल चीज़ें ठीक नहीं जा रही हैं. गुजरात विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान एक ऐसा वाक़या सामने आया जिससे पूरी भाजपा को शर्मसार होना पड़ रहा है. मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की एक जनसभा में आयी एक शहीद की बेटी को घसीटने का वीडियो सामने आने के बाद जहां कांग्रेस भाजपा को घेरने में लगी हैं वहीँ भाजपा को समझ नहीं आ रहा कि इस नए मामले को कैसे शांत किया जाए. असल में सोशल मीडिया पर रूपल तडवी नामक एक लड़की का वीडियो वायरल हुआ है. तडवी के पिता अशोक तडवी BSF में रहते हुए शहीद हो गए थे. रूपल का आरोप है कि सरकार ने जो वादे उनसे किये थे वो पूरे नहीं हुए हैं और इसी वजह से वो मुख्यमंत्री से मिलना चाह रही थीं.

शुक्रवार को जब एक रैली के दौरान रूपल मुख्यमंत्री से मिलना चाहती थीं तो उन्हें जबरन रैली से हटाने की कोशिश की गयी. वो बार-बार वीडियो में चिल्ला रही हैं कि “मुझे मुख्यमंत्री से मिलना है” लेकिन उन्हें सुरक्षा कर्मी बुरी तरह घसीट रहे हैं. इस वीडियो के वायरल होने के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने भी इस सन्दर्भ में ट्वीट किया. उन्होंने कहा कि इस वक़्त भाजपा का घमंड अपने चरम पर है. राहुल ने ट्वीट किया,”भाजपा का घमंड अपने चरम पर है.‘परम देशभक्त’ रुपाणीजी ने शहीद की बेटी को सभा से बाहर फिंकवा कर मानवता को शर्मसार किया।15 साल से परिवार को मदद नहीं मिली, खोखले वादे और दुत्कार मिली। इंसाफ़ माँग रही इस बेटी को आज अपमान भी मिला। शर्म कीजिए,न्याय दीजिए।

राहुल के ट्वीट के तक़रीबन दो घंटे बाद ही मुख्यमंत्री रूपाणी ने ट्वीट किया और उनको विशेष सुविधाएं दिए जाने की घोषणा कि.उन्होंने कहा,”श्रीमती रेखाबेन अशोकभाई तड़वी को भाजपा सरकार की ओर से 4 एकड़ ज़मीन, 10,000 रुपए मासिक पेंशन और 36,000 रुपए वार्षिक पेंशन उपलब्ध कराया गया है । इसके अलावा, उन्हें सड़क के पास की 200 वर्ग मीटर आवासीय भूखंड भी दिया जा रहा है ।”

राहुल ने पूछा चौथा सवाल
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से चौथा सवाल किया है. उन्होंने पूछा है कि सरकारी शिक्षा पर ख़र्च में गुजरात देश में 26वें स्थान पर क्यों? युवाओं ने क्या ग़लती की है?. उन्होंने ट्वीट किया कि सरकारी स्कूल-कॉलेज की कीमत पर,किया शिक्षा का व्यापार,महँगी फ़ीस से पड़ी हर छात्र पर मार, New India का सपना कैसे होगा साकार?. राहुल इसके अलावा तीन और सवाल पूछ चुके हैं.राहुल का पहला सवाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के घर देने के वादे को लेकर था जिसमें उन्होंने कहा कि जब 50 लाख घर देने का वादा था तो 5 साल में सिर्फ़ 4.72 हज़ार घर ही क्यूँ दिए गए. उन्होंने इसके बाद वित्तीय प्रबंधन से जुड़ा सवाल प्रधानमंत्री मोदी से किया और पूछा कि जब 1995 में 9183 करोड़ रूपये का क़र्ज़ गुजरात पे था तो 2017 में बढ़कर ये 2,41,000 करोड़ कैसे हो गया.

राहुल ने कल अपने तीसरे सवाल में पूछा था कि 2002-16 के बीच ₹62,549 Cr की बिजली ख़रीद कर 4 निजी कंपनियों की जेब क्यों भरी?सरकारी बिजली कारख़ानों की क्षमता 62% घटाई पर निजी कम्पनी से ₹3/ यूनिट की बिजली ₹24 तक क्यों ख़रीदी? जनता की कमाई, क्यों लुटाई?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *