शरद यादव ने किया खुलाफा-‘नीतीश ख़ुद गए थे लालू के पास महागठबंधन के लिए…’

वरिष्ट समाजवादी नेता शरद यादव ने हिंदी दैनिक जनसत्ता को दिए एक इंटरव्यू में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है. उन्होंने इस इंटरव्यू में बात करते हुए बताया कि जब बिहार में विधानसभा चुनाव होने थे तो नीतीश कुमार चाहते थे कि राजद से गठबंधन हो जाए. उन्होंने दावा किया कि ख़ुद नीतीश कुमार ही लालू यादव से गठबंधन चाहते थे जबकि लालू नीतीश से कोई गठबंधन नहीं चाहते थे.

उन्होंने कहा,”वे(लालू) तो हमारे साथ आने को तैयार भी नहीं थे. उन्हें लाने का प्रयास हमारी पार्टी ने किया. इसके लिए हमारे दो लोग लगाए गए थे.”

शरद यादव ने कहा,”लालूजी तो कहते रहे कि चुनाव के बाद बात करेंगे, हमारे ऊपर जो कुछ मामला कराया नीतीशजी ने कराया.”

उन्होंने कहा कि जब नीतीश कुमार को वोट चाहिए थे तो लालू के साथ उन्होंने गठबंधन किया और जब जीत गए और सरकार बन गयी तो फिर से उसी मामले को उछाल दिया. समाजवादी नेता ने कहा कि इसी वजह से वो विरोध में खड़े हैं.उन्होंने कहा,”यह कहां की बात है कि जब वोट लेना था तब तो भ्रष्टाचार का आरोप आपको नहीं दिखाई दिया और सरकार बनते ही उसे मुद्दा बना लिया”.

शरद यादव ने कहा कि सृजन घोटाला चारा घोटाले से भी बड़ा घोटाला है. उन्होंने कहा कि सभी विपक्षी दल एकजुट हैं और इसको लेकर राज्यसभा को देखा जा सकता है. उन्होंने कहा कि तीन बार विपक्ष ने राज्यसभा में NDA को मूंह की खिलायी है.

विपक्ष एकता के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के लोगों से भी इस सिलसिले में बात चल रही है लेकिन अन्तर्विरोध हैं.

2019 के लोकसभा चुनावों में उन्होंने अर्थव्यवस्था को सबसे बड़ा मुद्दा माना है. उन्होंने कहा कि साम्प्रदायिकता जैसे मुद्दे रहेंगे लेकिन सबसे बड़ा मुद्दा अर्थव्यवस्था ही बनने जा रहा है. उन्होंने आने वाले चुनाव

Leave a Reply

Your email address will not be published.