लोग मोदी सरकार से छुटकारा चाहते हैं: शरद यादव

November 19, 2018 by No Comments

नई दिल्ली : लोगों का कहना है कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार से वे छुटकारा चाहते हैं क्योंकि उसने 2014 में उनसे किये गए वादे में से एक भी वादे पूरे नहीं किये हैं। ये बयान विपक्षी नेता शरद यादव ने रविवार को दिया और भाजपा को निशाना बनाते हुए जमकर प्रहार किए। उन्होंने कहा कि भाजपा की केंद्र में वापसी की उम्मीद अब बिलकुल नही है। ये उन्हीं राज्यों ( उत्तर प्रदेश और बिहार) में दफन होंगी जहाँ से 2014 में उसकी बड़ी जीत हुई थी। उन्होंने यह भी दावा किया कि पांचों चुनावी राज्यों में कांग्रेस भाजपा को पछाड़ देगी।

उन्होंने एक साक्षात्कार में कहा कि भाजपा शासित राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश समेत विधानसभा चुनावों के नतीजे अगले साल लोकसभा चुनावों का आधार बनाएंगे। शरद यादव ने ये भी दावा किया कि प्रधानमंत्री मोदी पर चाय बेचने की अपनी पृष्ठभूमि जैसी “भावनात्मक” चालों का सहारा लेकर प्रधानमंत्री बने हैं जबकि उनके पार्टी सहयोगियों द्वारा अयोध्या में राम मंदिर बनाने की बात करने का आरोप लगाते हुए लोकतांत्रिक जनता दल प्रमुख शरद यादव ने कहा कि यह दिखाता है कि भाजपा के पास अपनी सरकार की उपलब्धियों के बारे में बताने को कुछ नहीं है। वो एकदम से खोखला है। उन्होंने कहा कि सभी पांच राज्यों में कांग्रेस मजबूत स्थिति में है। लोग बीजेपी से परेशान हो चुके हैं और भाजपा को हराना चाहते हैं। इन राज्यों में (विधानसभा) चुनावों के नतीजे 2019 के लोकसभा चुनावों की आधारशिला रखेंगे। विपक्षी दलों का गठबंधन बनाने और भाजपा के नेतृत्व वाले राजग के खिलाफ जीत के लिये काम कर रहे यादव ने कहा कि वे 2019 में एकजुट होंगे और भाजपा को कड़ी टक्कर देंगे।

शरद यादव ने ये भी कहा कि 2019 में सत्ता में लौटने की उसकी उम्मीदें उन्हीं मैदानी इलाकों में दफन होगी जहां से वो ज्यादा सीटें जीती थी।और गंगा के मैदानी इलाकों (उत्तर प्रदेश और बिहार) में मिली जीत के आधार पर भाजपा ने दिल्ली की सत्ता पाई है। समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच संभावित गठबंधन ने राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण उत्तर प्रदेश में उसके लिये स्थिति को ज्यादा चुनौतीपूर्ण बना दिया है क्योंकि यहां से संसद के निचले सदन में 80 सदस्य चुनकर जाते हैं। राजग को 2014 के चुनावों में उत्तर प्रदेश और बिहार की 120 लोकसभा सीटों में से 104 पर जीत हासिल हुई थी इस वजह से ये अधिक महत्वपूर्ण है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *