वसीम रिज़वी पर भड़के शिया धर्मगुरु,बोले-ISI से मिलकर देश के खिलाफ..

November 24, 2018 by No Comments

राम मंदिर बाबरी मस्जिद को लेकर चले आ रहे विवाद की आग में शिया वक़्फ़ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिज़वी लगातार ऐसी बयानबाज़ी कर रहे है जो मुस्लिम समाज पर निशाना और हिन्दू संघठनो को खुश करने का प्रयास लगता है.अब इसी संदर्भ में अब उन्होंने “राम जन्मभूमि” नामक फ़िल्म का निर्माण करके एक बार फिर इस विवादित मुद्दे को भड़काने का प्रयास किया है.लेकिन अब वसीम रिज़वी पर शिया उलेमा भड़क गये है.

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार भारत में शिया मुसलमानों के वरिष्ठ धर्मगुरू एवं इमामे जुमा लखनऊ मौलाना सैयद कल्बे जवाद नक़वी ने यूपी शिया सेंट्रल वक़्फ़ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिज़वी द्वारा बनाई गई विवादास्पद फिल्म “राम जन्मभूमि” के भड़काऊ और विवादित ट्रेलर की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए देश की सरकार से मांग की है कि वह इस विवादास्पद फिल्म में लगाए गए पैसों की जांच करवाए और साथ ही समाज में टकराव पैदा करने वाली ऐसी भड़काऊ फिल्म की रिलीज़ पर प्रतिबंध लगाए.

मौलाना कल्बे जवाद ने शुक्रवार को ऐतिहासिक आसफ़ी मस्जिद में हज़ारों की संख्या में जुमे की नमाज़ में शामिल मुसलमानों को संबोधित करते हुए कहा कि वर्ष 2019 में होने वाले आम चुनाव से पहले कुछ असमाजिक तत्व इस प्रयास में हैं कि देश में हिन्दू-मुस्लिम और शिया-सुन्नी दंगा कराके अपनी राजनीतिक रोटियां सेंक सकें.उन्होंने कहा कि हमें इस बात की सूचना मिली है कि वसीम रिज़वी द्वारा जो फिल्म बनाई गई है उसके ट्रेलर में जो चीज़े दिखाई गईं हैं उसको ही देख कर समाज के लोगों में चुनाव से पहले दंगे और विभिन्न धर्मों के लोगों के बीच आपसी टकराव पैदा होने का भय सताने लगा है.

कल्बे जवाद ने कहा कि अगर देश की सरकार दंगों की आग में भारत को जलता नहीं देखना चाहती है तो इस फिल्म पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाए.उन्होंने कहा कि फिल्म राम जन्मभूमि में जो निवेश किया गया है उसकी भी जांच होनी चाहिए, ताकि उन सभी लोगों के चेहरे सामने आ सकें जो देश में दंगा भड़काने की साज़िश रच रहे हैं.कल्बे जवाद ने शिया वक़्फ़ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिज़वी पर आईएसआई का एजेंट होने का आरोप लगाते हुए कहा कि वसीम रिज़वी लगातार इस तरह के षड़यंत्र कर रहा है ताकि भारत में सांप्रदायिकता की आग भड़काई जा सके.

उन्होंने कहा कि हम इसीलिए सरकार से यह मांग कर रहे हैं कि इस बात की जांच होना आवश्यक है कि ऐसी विवादित फिल्म में किसने निवेश किया है और कौन हैं वे लोग जो देश में दंगा भड़काना चाहते हैं इसकी पूरी जांच हो और देश के सामने ऐसे देशद्रोहियों को बेनक़ाब किया जाए.मौलाना ने कहा कि अगर यह विवादित फिल्म रिलीज़ होती है और उसके बाद देश में किसी भी तरह की कोई अप्रिय घटना होती है तो उसकी पूरी ज़िम्मेदारी फिल्म बनाने वाले के साथ-साथ सरकार की भी होगी.उन्होंने कहा कि हमारा काम है देश में शांति और भाईचारे के लिए हमेशा प्रयास करना और इसी कारण हमने देश की सरकार से ऐसी भड़काऊ और विवादित फिल्म की रिलीज़ रोके जाने की मांग की है.(न्यूज़ सोर्स-सिआसत हिंदी)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *