पति के साथ लाहौर में प्रकाश पर्व मनाने गयी पत्नी ने , मुस्लिम से कर लिया निकाह , हुआ विवाद तो कोर्ट ने सुनाया फैसला..

मोहब्बत में इंसान कुछ भी कर सकता है,और अपने मोहब्बत के लिए इन्सान दुनिया की हर चीज़ छोड़ने को तैयार हो जाता है,ऐसा ही एक मामला पाकिस्तान के लाहोर में देखने में आया है.जहाँ पर एक भारतीय महिला ने अपने पति की मौजूदगी में अपने प्रेमी से निकाह कर लिया.वह धर्म बदल कर और इस शादी को महिला के पति ने ही कराया है.

दरअसल गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व पर पाकिस्तान गए जत्थे के साथ गई कोलकाता की महिला ने पाकिस्तान में अपने प्रेमी के साथ शादी कर ली.महिला ने अपने पति की अनुमति से प्रेमी के साथ पुलिस की मौजूदगी में लाहौर की मस्जिद में निकाह किया.

महिला इस्लाम धर्म को मानने वाली नहीं थी तो उस ने पहले इस्लाम धर्म अपनाया और उसके बाद मस्जिद में निकाह किया.हालांकि शादी के बाद महिला पाकिस्तान में नहीं रह पाई है, उसका वीजा ख़त्म होते ही उसे भारत वापस आना पड़ा. और पहले पति को लेकर वह भारत आ गई है.

पासपोर्ट के मुताबिक कोलकाता की रहने वाली महिला का जन्म लखनऊ में हुआ.वह बीते 17 नवंबर को अटारी के रास्ते सीमा पार कर पाकिस्तान में श्री गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व में हिस्सा लेने के लिए जत्थे के साथ गई थी.

यह महिला पहले ही सोशल मीडिया द्वारा वहां के एक लड़के से प्यार करती थी,जब 23 नवंबर को जत्था लाहौर पहुंचा, तो महिला वहां के मोहम्मद इमरान के पास पहुंच गई.उसने दस्तावेज तैयार करवाए और 24 नवंबर को इमरान के साथ लाहौर में शादी कर ली. शादी से पहले उसने इस्लाम कबूल किया और अपना नाम प्रवीण सुल्ताना रखा.

Image

महिला के शादी करने के बाद सब से बड़ा मसला उसके साथ यह था कि वह पाकिस्तान में कैसे रहेगी.क्योंकि उसका वीजा कुछ ही दिन का था,उसके लिए महिला ने और उसके नए पति ने लाहौर की अदालत में अपील दायर करते हुए महिला के पाकिस्तान में रहने की इजाजत मांगी जिसे अदालत ने खारिज कर दिया.

 

जिसके बाद यह महिला अपने भारतीय पति के साथ लौट आई.यहां पहुंचने के बाद उसने पाकिस्तान का वीजा अप्लाई करने के संकेत दिए. दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान परमजीत सिंह सरना ने कहा कि इस तरह का कदम भविष्य के लिए खतरा हो सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.