घर से बेघर होते ही सोमी खान ने दीपक को लेकर दिया ये बयान, कहा-"उससे प्यार तो…"

December 28, 2018 by No Comments

हेलो दोस्तो आज हम बात करेंगे बिग बॉस की कंटेस्टेंट सोमी खान के बारे में ।दोस्तों जैसा कि हम जानते हैं हर शनिवार या रविवार को बिग बॉस के घर में एविक्शन होता है ।और इस रविवार को सोमी खान बिग बॉस के घर से बाहर हुई है ।तो आइए दोस्तों जानते हैं बिग बॉस के घर की कुछ कहानी सोमी खान की जुबानी। दोस्तों इस बार बिग बॉस का 12वां सीजन है और बिग बॉस हर बार की तरह एक नए थीम के साथ आता है.
इस बार बिग बॉस की थीम जोड़ी थी। बिग बॉस के ज्यादातर कंटेस्टेंट जोड़ियों में आए ।जिनमें से 1 जोड़ी सोमी खान और सबा खान की थी।यह दोनों बहने आई तो जोड़ियों में थी लेकिन बिग बॉस नें एक ट्विस्ट डाला और सभी की जोड़ियां टूट गई ।सबा खान पहले ही घर से बाहर हो गई थी। लेकिन इस रविवार फिनाले की इतने करीब आकर बस एक हफ्ता पहले ही सोमी घर से बाहर हो गयी.

google


हमने सोमी खान से पूछा कि जब बिग बॉस का यह सीजन शुरू हुआ तो शुरुआत के पहले हफ्ते में आपने और आपकी बहन ने लोगों के साथ एक प्रैंक किया था लेकिन बाद में वह फ्रेंक सचमुच की लड़ाई में बदल गया था आप क्या कहना चाहेंगी उस बात पर?
सोमी- देखिए जैसा कि आप लोग जानते हैं बिग बॉस के घर में लड़ाई होना या बहस हो ना आम बात है यह झगड़ा लड़ाई होना काफी फेमस है ऐसे में हमने सोचा कि माहौल काफ़ी शांत है तो लाओ कुछ प्रैंक किया जाए जिस में हमने सबको यह दर्शाया की हमारे और शिवशीष के बीच काफी लड़ाई हो चुकी है लेकिन श्रीशांत हमारी बातों से भड़क गए और प्रैंक लड़ाई में बदल गया.

google


हम दोनों बहने असल जिंदगी में काफी शरारती बहने हैं तो बिग बॉस में थोड़ी शरारत तो बनती है। और उस हफ्ते हमारा प्रैंक उस घर के लिए काफी बड़ा मुद्दा बन चुका था और इस बात पर काफी बहस भी हुई। सोमी जी जब तक आप और आपकी बहन साथ में थे तब तक आप बहुत कम दिखाई देती थी लेकिन जब से आपकी बहन घर के बाहर हुई तब आपके साथ कुछ ज्यादा ही घटनाएं होने लगी और तब आप दिखाई देने लगी क्या इस बात में सच्चाई है?
सोमी- देखिए हम दोनों बहने एक दूसरे के बहुत ही ज्यादा क्लोज है बिग बॉस के घर में हम दोनों भले ही अलग-अलग थे लेकिन हमारी आवाज एक थी ।जिस वजह से सबा बोलती थी तो मैं उन्हें पूरी तरीके से सपोर्ट करती थी और मुझे बोलने की जरूरत नहीं पड़ी लेकिन जब सवा चली गई तो मुझे कुछ वक्त लगा संभलने में और उसके बाद मुझे समझ में आया कि मुझे यह सफर अकेले ही तय करना है उसके बाद मैंने सारी चीजों का सामना कोई समझदारी के साथ किया.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *