सनी देओल का ऑनस्क्रीन बेटा 20 साल में क्या से बन गया क्या.. बॉलीवुड में कर चुका है डेब्यू

फिल्म अभिनेता सनी देओल ने अपने फिल्मी करियर में कई तरह की फिल्मों में काम किया है।लेकिन सबसे ज्यादा फिल्में जो उनकी लोगों द्वारा पसंद की जाती है।वो है एक्शन फिल्में। सनी देओल ने कई एक्शन फिल्मों के जरिए लोगों का दिल जीता है।जिनमें से एक है फिल्म गदर।

इस फिल्म में सनी देओल और अमीषा पटेल की प्रेम कहानी दिखाई गई थी।जो कि साल 2001 में रिलीज हुई थी।इस फिल्म में अमीषा पटेल और सनी देओल का एक बेटा दिखाया गया था।

खास बात यह है कि वह अपने पिता की तरह बड़े पर्दे पर हीरो बन चुके हैं।27 साल के हो चुके उत्कर्ष डायरेक्टर अनिल शर्मा के बेटे हैं।जिन्होंने खुद बनाई थी। आपको बता दें कि 22 मई 1994 को महाराष्ट्र में जन्मे उत्कर्ष शर्मा ने जब गदर फिल्म के लिए ऑडिशन दिया था।

तो वह सिर्फ 7 साल के थे अब वह काफी हैंडसम लुक वाले कलाकार बन चुके हैं।बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट काम कर चुके उत्कर्ष शर्मा को उनके पिता अनिल शर्मा ने पढ़ाई के लिए विदेश भेज दिया था।

उत्कर्ष ने न्यूयॉर्क के ली स्टार्सबर्ग थियेटर एंड फिल्म इंस्टीट्यूट से भी एक्टिंग और फिल्म की डिग्री है। फिल्म डायरेक्टर अनिल शर्मा ने अपने बेटे उत्कर्ष शर्मा को साल 2018 में आई फिल्म जीनियस के जरिए लांच किया था।

लेकिन यह फिल्म बड़े पर्दे पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई। इंटरव्यू के दौरान उसने बताया कि गदर फिल्म के सीन में सनी देओल को ट्रेन के ऊपर अमीषा पटेल के साथ एक बोगी से दूसरी बोगी पर कूदना था।

सनी देओल के कंधे पर बैठे उत्कर्ष ने बताया कि उस दिन में ट्रेन 40 किलोमीटर की स्पीड से चल रही थी। वह इतना ड’रे हुए थे कि उनका दिल जोर-जोर से धड़क रहा था। इस वजह से उन्होंने अपनी आंखें बंद कर ली थी।

इस फिल्म के डायरेक्टर और उत्कर्ष के पिता अनिल ने बताया था कि उनके लिए यह देखना काफी मुश्किल था। उनकी छोटी सी गलती बेटे की जान ले सकती थी। ट्रेन रूकी और कट की आवाज आई तब उन्होंने राहत की सांस ली थी।

आपको बता दें कि सनी देओल के ऑनस्क्रीन बेटे उत्कर्ष शर्मा को फिल्म अभिनेता धर्मेंद्र अपना मुंह बोला पोता मानते हैं। उनकी फिल्म के मुहूर्त पर धर्मेंद्र अपनी पत्नी और फिल्म अभिनेत्री हेमा मालिनी के साथ पहुंचे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.