राम मंदिर: सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से हैरान हुए संत, बोले- "अब हम…"

January 31, 2019 by No Comments

दोस्तों हिंदुस्तान में एक मामला बहुत साल से चल रहा है जो कि अयोध्या का राम मंदिर और बाबरी मस्जिद का मामला है इस मामले में बहुत से दंगे हुए और बहुत लोगों की जान भी गई हाल ही में अयोध्या के मामले पर सुप्रीम कोर्ट से डेट आई है इस मामले को अगली तारीख दे दी गई है जिसकी वजह से संतों में बवाल खड़ा हो गया.
जिसके बाद आग बबूला हुए संत ने बयान दे दिया कि आपको बताते हैं कि उन्होंने क्या बयान दिया विश्व हिंदू परिषद की तरफ से बयान आया है की दुनिया की कोई ताकत राम मंदिर बनाने से रोक नहीं सकती यह श्री राम लला की जन्मभूमि है और दुनिया की कोई ताकत उनसे उनकी जन्म भूमि नहीं छीन सकती मंदिर वहां बन के रहेगा.

google


दोस्तों श्री राम जन्म भूमि न्यास के अध्यक्ष और मणिराम दास छावनी महंत नृत्य गोपाल दास महाराज ने कहा कि देश का हर एक नागरिक सर्वोच्च न्यायालय का सम्मान करता है और वह उनके फैसले के खिलाफ नहीं जाता क्योंकि सर्वोच्च न्यायालय का सम्मान करना हमारा कर्तव्य है और यह हमारे लिए बहुत ही सम्मान की बात है लेकिन वर्तमान में न्यायिक व्यवस्था की तरफ से हिंदू समाज को दुख पहुंचाया जा रहा है.
श्री राम जन्म भूमि के विवाद में हर हिंदू एक आस लगाकर बैठा है कि फैसला उसके पक्ष में आएगा लेकिन कोर्ट की तरफ से बार-बार तारीख दी जा रही है विश्व हिंदू परिषद की तरफ से बयान दिया गया है कि इस मामले को बाबरी मस्जिद समर्थक का और कांग्रेस की तरफ से हमेशा लटकाए रहने का लक्ष्य बनाया गया है.

google


उन्होंने कहा कि श्री राम मंदिर के भव्य निर्माण के लिए लगातार हिंदू समाज इस की आस लगाए हुए बैठा है और वह यही सोच रहा है कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला हिंदू समाज के पक्ष में आएगा उनका कहना है कि यह उनके राम लला की जन्मभूमि है और इसे कोई छीन नहीं सकता यह राम लला की भूमि है उन से दुनिया की कोई ताकत इसे छीन नहीं सकती फैसला हमारे ही बीच में आएगा और वहां पर राम मंदिर का भव्य निर्माण होगा.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *