तहज्जुद कि नमाज़ का तरीका और उसकी फ़ज़ीलत जो जान जायेगा वो कभी भी छोड़ेगा नहीं…

December 17, 2018 by No Comments

अस्सलाम वालेकुम मेरे प्यारे भाइयों और बहनों आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि तहज्जुद की नमाज़ कैसे पढ़े यानी कि तहज्जुद की नमाज़ का तरीका। तहज्जूद बड़ी इंसानों वाली नमाज है मेरे भाइयों। बुखारी और मुस्लिम की रवायत में आता है कि फ़र्ज़ नमाजो के बाद अल्लाह को जो सबसे ज्यादा पसंदीदा नमाज है वह तहज्जुद है जब हमारे प्यारे नबी मदीना तशरीफ ले कर गए.
तब आप सल्लल्लाहू अलैहे वसल्लम ने सबसे पहले जो वाज़ फरमाया वह यही था कि ए लोगों अपने रिश्तेदारों से अच्छा सुलूक ।करो ए लोगो अल्लाह की खातिर लोगों को खाना खिलाओ। जब लोग सो रहे हैं तो तुम तहज्जुद की नमाज अता फरमाओ। अगर तुम यह काम करोगे तो तुम देखोगे कि कयामत के रोज तुम सलामती से अल्लाह की जन्नत में जाओगे। सुभान अल्लाह बहुत बड़ी ही पग्नत वाली नमाज है.

google


हमारे प्यारे नबी रसूले करीम सल्लल्लाहो अलैहे वसल्लम ने फरमाया है किए लोगों जो रात को 10 आयते भी पढ़ लेता है उसका नाम का गफिलिन की लिस्ट में से काट दिया जाता है क्योंकि अल्लाह को ये आयतें पढ़ना बहुत अच्छा लगता है। प्यारे नबी ने सहाबा से फरमाया की ए दोस्तों रात की नमाज़ जरूर पढ़ा करो। यह तुमसे पहले सालेहैं और अंबिया का तरीका था.
अगर तुम रात की धमाल करोगे तो उसके बदले तुम्हें अल्लाह का कुरब मुहब्बतऔर इज्जत मिलेगी। जैसा कि हम जानते हैं कि दिन में हम सब को कम वक्त होता है उस हिसाब से नमाज भी कम होती है लेकिन रात को तुम आराम से नमाज पढ़ो अगर नमाज लंबी है तो भी कोई फिक्र नहीं। अपने रब से माफी मांगो उसको राजी करो.

google


दिन को माफी मांगना भी चाहो तो हो सकता है कि तुम अपने आसपास के लोगों से झिझक जाओ और सही तरीके से माफी ना मांग सको इसलिए तुम रात को अकेले में जितनी चाहे अल्लाह से रो रो कर माफी मांगे अपने रब को मना लो राज़ी कर लो रात को तुम्हारे पास वक्त और तनहाई दोनों होती है और तुम्हारा रब तुम्हारे सारे गुनाहों को जानता है.
जितना चाहे गुनाहों से माफी मांग लो अगर तुमको रोना नहीं आता है तो कम से कम रोने वाला मू ही बना लो। इंशा अल्लाह अल्लाह को तुम्हारी यह हरकत और नमाज इतनी पसंद आएगी की हो सकता है वह तुम्हारे जिंदगी भर के गुनाहों को माफ कर दे और तुम्हें जन्नत अता कर दे। मेरे भाइयों तहज्जूद की नमाज़ बड़ी ही फजीलत वाली नमाज है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *