लालू की बात भी नहीं मानेंगे तेज प्रताप यादव,’घुट-घुट के नहीं जी सकता’

November 4, 2018 by No Comments

पटना: लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेजप्रताप अपने वैवाहिक जीवन के कारण चर्चा में हैं। 12 मई 2018 को ऐश्‍वर्या राय से शादी के पांच महीने बाद ही उन्‍होंने कोर्ट में तलाक की अर्जी देकर सभी को चौंका दिया है। लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने शादी के महज 5 महीने बाद ही अपनी पत्नी ऐश्वर्या से तलाक लेने की अर्जी दाखिल कर दी है. तेज प्रताप ने शुक्रवार को पटना सिविल कोर्ट में तलाक की अर्जी दी है. बता दें कि तेज प्रताप की शादी इसी साल 12 मई को ऐश्वर्या से हुई थी.तेज प्रताप ने हिंदू मैरिज एक्ट के तहत पटना के सिविल कोर्ट में तलाक के लिए अर्जी दी है. इस धारा के तहत पति या पत्नी में से कोई भी एकतरफा तरीके से तलाक मांग सकता है. अर्जी में उन्होंने अपने साथ क्रूरता होने और टॉर्चर होने का तर्क दिया है.

बता दे कि राजद नेता तेजप्रताप यादव ने स्पष्ट कह दिया है कि वह अपने अपने पिता और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की बात कतई नहीं मानने वाले हैं.  तेजप्रताप यादव ने कहा कि मेरे मां-बाप, भाई-बहन सबने मुझे नकार दिया, सब ऐश्वर्या के साथ खड़े हैं. उन्होंने कहा कि मेरे साथ मेरे परिवार का कोई नहीं खड़ा है. सब ऐश्वर्या के साथ हैं. हालांकि, वह अपना इरादा नहीं बदलेंगे. राष्ट्रीय महिला आयोग की वकील अल्का वर्मा का कहना है कि पति-पत्नी का संबंध अच्छा नहीं हो या मानसिक क्रूरता महसूस करता हो, तो वह तलाक की अर्जी दायर कर सकता है। लेकिन विवाह अध‍िनियम, 1955 की धारा 14-1 के तहत शादी के एक वर्ष बाद ही तलाक की याचिका अदालत में दायर की जा सकती है।

हालांकि कानून की धारा 14-2 के तहत विशेष परिस्थितियों में एक साल से पहले भी तलाक की अर्जी दायर की जा सकती है। लेकिन इसके लिए समय-सीमा छह महीने है। ऐसे में तेज प्रताप को साबित करना होगा कि किन विशेष परिस्थितियों के कारण वह तलाक चाहते हैं।ऐश्वर्या बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री दरोगा राय की पोती हैं. उनके पिता चंद्रिका राय सारण के परसा विधानसभा क्षेत्र से आरजेडी के विधायक हैं. तेज प्रताप और ऐश्वर्या की शादी 12 मई को पटना के वेटरनरी कॉलेज मैदान में आयोजित की गई थी. तेज प्रताप और ऐश्वर्या की शादी में सियासत के बड़े दिग्गजों ने शिरकत की थी. आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप की शादी में शरीक होने के लिए उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पत्नी डिंपल यादव के साथ पटना पहुंचे थे तो वहीं बिहार के सीएम नीतीश कुमार भी लालू और राबड़ी की बहू को आशीर्वाद देने पहुंचे थे.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *