नीतीश में दम है तो कहें कि युवाओं का वोट नहीं चाहिए: तेजश्वी यादव

पटना: राजद नेता और बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजश्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा बच्चा कहे जाने पर नाराज़गी ज़ाहिर की है. उन्होंने ट्विटर के ज़रिये कहा ककी नीतीश कुमार लोकतंत्र की मर्यादा भूल गए हैं क्यूंकि तेजश्वी बिहार में नेता प्रतिपक्ष ही. उन्होंने कहा कि आज के दौर में बिहार की जनता उनकी बातों को सुनती है और जो वो कहते हैं वही आम राय बन जाती है.

उन्होंने कहा कि अगर नीतीश कुमार उन्हें बच्चा समझते हैं तो उन्हें “बाल दिवस” पर शुभकामनाएं तो दे ही देते. उन्होंने कहा,”नीतीश चाचा ने कल कहा,”तेजस्वी बच्चा है”।… आदरणीय चच्चा जी, आज बच्चा को ‘बाल दिवस’ पर आशीर्वाद ना सही लेकिन शुभकामनायें तो दे देते।आपने 5 दिन पहले इस बच्चे को जन्मदिवस की शुभकामनाएँ भी नहीं भेजी।बच्चा कहते हों तो बड़ो जैसा सलूक भी करों।”

उनके लहजे में नाराज़गी साफ़ नज़र आ रही है. उन्होंने एक अन्य ट्वीट किया,”बच्चा कितना भी बड़ा क्यों ना हो जाए वो माँ-बाप और अभिभावको के लिए सदा बच्चा ही रहता है। नीतीश चाचा सही तो कह रहे है तेजस्वी अभी बच्चा है।”

उन्होंने कहा कि वो चाहें तो पलटवार करके नीतीश को बूढा कह सकते हैं लेकिन वो ऐसा नहीं करेंगे. उन्होंने कहा,”नीतीश जी आप आदरणीय है इसलिए पलटकर मैं आपको बूढ़ा तो नहीं कहूँगा लेकिन चाचा आपके द्वारा जनादेश की ठगी करने के बाद अगले दिन विधानसभा में इस बच्चे के सामने आपका मुँह लटका हुआ था।और इस बच्चे के एक भी सवाल का जवाब आपने अभी तक नहीं दिया है।”

उन्होंने कहा,”नीतीश जी में दम है तो घोषणा करें की वो बिहार के करोड़ों छात्रों और युवाओं का वोट नहीं लेंगे।क्योंकि वो युवाओं की बातों का नोटिस नहीं लेते।युवा अब जान गया है आपने शिक्षा व्यवस्था का सत्यानाश करके करोड़ों बिहारी युवाओं का भविष्य चौपट कर दिया है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.