‘सुशील मोदी जी मूँह में बर्फ़ मत जमाइए… बताइये क्यूँ नीतीश कुमार ने तीन सरकारी बंगले ले रखे हैं’

February 6, 2018 by No Comments

पटना: बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजश्वी यादव ने एक बार फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को घेरा है. उन्होंने लगातार ट्वीट इ ज़रिये कहा है कि बिहार के लिए नीतीश कुमार ने विशेष दर्जा तो नहीं लिया लेकिन “विशेष आवास” ले लिया है. उन्होंने कहा,”नीतीश कुमार ने बिहार के लिए विशेष दर्जे की जगह अपने लिए दिल्ली में “विशेष आवास” और “विशेष सुरक्षा” की डील कर ली।बिहार की पुरानी माँग और हितों के एवज मे नीतीश जी ने अपने व्यक्तिगत हितों को ऊपर रखा। व्यक्तिगत स्वार्थों की पूर्ति के लिए बिहार के अधिकार से समझौता नहीं करना चाहिए था।”

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा,”सुशील मोदी ने विगत वर्ष नीतीश कुमार को कड़ा पत्र लिखकर पूछा था कि आपके परिवार में मात्र एक सदस्य है फिर भी आप पटना में दो आलीशान बंगले क्यों लिए हुए है? अब नीतीश जी को दिल्ली में तीसरा आलीशान बंगला मिला है क्या ख़ुलासा मास्टर सुशील मोदी अब CM को दुबारा पत्र लिखेंगे? है हिम्मत?”

उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा,”सुशील मोदी जी अब मुँह में बर्फ़ मत जमाइये और बताइये क्यों अनैतिक रूप से नीतीश कुमार ने देशभर में तीन सरकारी बंगले ले रखे है? दिल्ली में बिहार निवास और बिहार भवन के बाद भी मुख्यमंत्री को कौन सी ऐसी प्राइवेसी चाहिए जो इतना बड़ा बंगला लिया है? बोलिये,ख़ुलासा मियाँ!”

तेजश्वी ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि हास्यास्पद है कि वर्तमान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक पूर्व मुख्यमंत्री को मिलने वाले बंगले को भी एक साथ क़ब्ज़ाए हैं। आश्चर्य नहीं होगा अगर भविष्य मे नीतीश कुमार पूर्व कैबिनेट मंत्री, पूर्व सांसद, पूर्व विधायक और जाने कौन-कौन से रूप में मिलने वाले सभी सुविधाओं के नाम पर दावा ठोक दें. उन्होंने कहा,”नीतीश जी दिल्ली में मिले बंगले को अपने शातिराना तरीक़े से बिहार के CM को मिला बंगला बता रहे है। बिहार CM और नीतीश कुमार दो अलग-अलग व्यक्ति है क्या? आजतक तो किसी को भी बिहार CM की हैसियत से दिल्ली में बंगला नहीं मिला। बंगले और Z+ सुरक्षा के लालच में पलटी मार गए क्या?”

तेजश्वी ने कहा,”बिहार के दो पूर्व मुख्यमंत्री श्री लालू प्रसाद जी और श्रीमती राबड़ी देवी जी ‘दो’ की बजाय मात्र एक ही बंगले में रहते है लेकिन नीतीश कुमार जी अकेला व्यक्ति होने के बावजूद पटना में दो और दिल्ली में एक बंगले में रहते है। लालची कौन हुआ कुर्सी बाबू उर्फ़ नैतिक बाबू? जवाब दिजीए!”

उन्होंने अपने पिता लालू प्रसाद यादव की तारीफ़ करते हुए कहा,”देश के सबसे बड़े जनाधार वाले क्षेत्रीय दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू जी को मिली सुरक्षा को रौब गाँठने का ज़रिया बताने वाले अनैतिक बाबू अब अपनी Z+ सुरक्षा को ज़रूरत बता रहे है। पलटी मारने का कोई पैमाना और माप होता तो आदरणीय नीतीश जी के दोहरेपन के सामने वह टूटकर चूर-चूर हो जाता।”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *