नीतीश झूठ की खेती करते हैं…उनकी नैतिकता का रंग का गहरा काला: तेजश्वी यादव

January 27, 2018 by No Comments

पटना: नंदन गाँव की घटना पर पुलिस कार्यवाही और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के रवैये से राजद नेता और नेता-प्रतिपक्ष तेजश्वी यादव काफ़ी नाराज़ हैं. तेजश्वी यादव ने ट्विटर पर नीतीश कुमार को झूठ की खेती करने वाला बताया. उन्होंने कहा,”सार्वजनिक जीवन में बेशर्मी से झूठ की खेती करना कोई बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सीखे। 3 दिन पहले उन्होंने सबों के सामने कहा था कि नंदन गाँव के निर्दोष महादलितों को छोड़ दिया जायेगा। सरकार उनकी ज़मानत का विरोध नहीं करेगी। लेकिन वो फिर यू-टर्न मार गए!”

उन्होंने कहा कि नीतीश की नैतिकता का रंग गहरा काला है और वो काले अंधेरे में ही अपनी उस नैतिकता से रूबरू होते है। इस पद पर बैठा व्यक्ति कैसे सरेआम दिन-दहाड़े बिहारवासियों को झूठ बोलकर गुमराह करने साहस जुटा पाता है? लगता है अंतरात्मा मलीन हो गई है. उन्होंने कहा,”नीतीश कुमार ने कहा था सरकार निर्दोषों की ज़मानत का विरोध नहीं करेगी लेकिन अगले दिन ही उनका सरकारी वक़ील ग़रीब महादलितों जिसमें गर्भवती समेत 10 निर्दोष महिलायें थी उनका पुरज़ोर विरोध कर रहा था। कौन ऐसे मुख्यमंत्री पर यक़ीन करेगा? सोचिए और स्वयं को जवाब दिजीए।”

नंदन गाँव की घटना में महिलाओं की गिरफ्तारी की आलोचना करते हुए पूर्व-उपमुख्यमंत्री ने कहा,”नदंन गाँव घटना में 102 नामजद और करीब 700 अज्ञात अभियुक्त बनाए गए। 29 महादलितों को गिरफ़्तार किया गया।जिसमें 10 महिलायें शामिल हैं।इन गरीब निर्दोष महिलाओं के छोटे-छोटे बच्चों को अपनी माँओ की गैर-मौजूदगी में ठीक से रोटी भी नसीब नहीं हो पा रही है।मकर संक्रान्ति से सब बच्चे भूखे है।”

उन्होंने आरोप लगाया कि नीतीश के कहने पर बेक़सूरों को निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने कहा,” नीतीश कुमार के इशारे पर बेकसूरों को अभियुक्त बनाया जा रहा है। नंदन गांव के वोटर लिस्ट में जाति देखकर पुलिस ने निर्दोषों को ज़बरदस्ती नामजद अभियुक्त बनाया है। नीतीश जी के कुछ जाति विशेष के विशेष प्रेम को देखकर उन्हें छोड़कर बाकी जाति के लोग पुलिस द्वारा अभियुक्त बना दिए गए है।” उन्होंने कहा,”मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कहने पर अनुसूचित जाति के चार लोग बीरेन्द्र पासवान,विनयराम, इन्द्रजीत राम व लूटनराम विदेश में नौकरी करते हैं उनका नाम भी FIR में शामिल हुआ।आश्चर्य है विजय राम जो 2015 में ही स्वर्ग सिधार गए वो भी नामज़द अभियुक्त है। यह है नीतीश का न्याय के साथ विकास!”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *