आपको तेजी से बुढ़ापे की ओर धकेल रही पांच बुरी आदतें, सुधार लें वरना होगा पछतावा

हमारी ज़िंदगी में बेपरवाह लाइफ स्टाइल एक तरफ़ तो हमें बेशुमार बीमारीयों में मुबतला करती हैं,दूसरी तरफ़ ये हमारी स्किन और उम्र पर भी बुरा प्रभाव डालती है.इन ग़ैर सेहत वाली ज़िन्दगी की वजह से कम उम्र में लोग बूढ़े नज़र आने लगते हैं.अगर आप भी कुछ ऐसी ही सूरत-ए-हाल का शिकार हैं.यानी अपनी उम्र से बड़े नज़र आते हैं, तो फिर आपको जानने की ज़रूरत है कि आप में कौन कौन सी ऐसी आदते है जो इन्सान को बुढा बना रही है.

माहिरीन का मुत्तफ़िक़ा तौर पर मानना है कि धूप के मुज़िर असरात से बचने के लिए ज़रूरी है कि रोज़ाना जिल्द पर सन स्क्रीन का इस्तिमाल किया जाये। जिल्द पर बराह-ए-रास्त धूप की रोशनी जिल्द के कैंसर में मुबतला कर सकती है.

वहीँ बुढापे की एक वजह यह भी है कि अगर आप गुस्सा ज्यादा करते हैं, तो यह आप के लिए ख’तर’नाक है. हमेशा बात चीत नरमी से करनी चाहिए.बात बात पर गु’स्सा नहीं करना चाहिए.

अगर आप करवट लेकर सोने के आदी हैं तो आप अपनी स्किन को नुक़्सान पहुंचा रहे हैं। कमर के बल सीधा सोना बेहतरीन पोज़ीशन है, ये ना सिर्फ आपको नींद के दौरान आराम फ़राहम करती है बल्कि ये कमर दर्द से भी नजात दिलाती है

वैसे तो एक्सपर्ट चिकनाई को जिस्म के लिए मुज़िर क़रार देते हैं और ये मोटापे, फ़ालिज और अमरज़-ए-क़लब समेत कई बीमारीयों का सबब बनती हैं लेकिन ऐसा सिर्फ इस सूरत में होता है जब आप हद से ज़्यादा चिकनाई वाली ग़िज़ाएँ खाने लगते हैं.

दुनिया में मौजूद कोई भी शैय नुक़्सानदेह नहीं है। एक ख़ास मिक़दार के अंदर ली जाने वाली चिकनाई भी हमारे जिस्म के लिए फ़ाइदामंद और ज़रूरी है.अगर आप चिकनाई का इस्तिमाल बिलकुल कम कर देंगे तो आपकी जिल्द ख़ुशक होने लगेगी और इस पर झुर्रियाँ नमूदार होने लगेंगी यूं आप आहिस्ता-आहिस्ता बूढ़े महसूस होंगे

चिकनाई की तरह चीनी का ज़्यादा इस्तिमाल भी सेहत के लिए मुज़िर है ताहम उस का ये मतलब भी नहीं कि आप अपनी ज़िंदगी से मिठास को बिलकुल ख़ारिज कर दें.हफ़्ते में एक से दो बार भरपूर मीठा जैसे कोई स्वीट डिश या केक को अपनी ग़िज़ा का हिस्सा बनाएँ। शूगर की मुनासिब मिक़दार दिमाग़ी कारकर्दगी में इज़ाफ़ा करती है

एस्ट्रा से पीना-मशरूब और को एस्ट्रा से पीने की आदत आपके होंटों के आस-पास झुर्रियाँ पैदा करने का बाइस बनेगी। अगर आप हमेशा एस्ट्रा से मशरूबात पीने के आदी हैं तो इस आदत को फ़ौरन तर्क करने की कोशिश करें। इस की जगह बराह-ए-रास्त गिलास से पियें.

यही नुक़्सान सिगरेट नोशी का भी है। सिगरेट नोशी मुख़्तलिफ़ बीमारीयां और नुक़्सानात पैदा करने के साथ साथ झुर्रियाँ पैदा करने का सबब भी बनती है लिहाज़ा अगर आप सिगरेट नोशी में मुबतला हैं तो आहिस्ता-आहिस्ता इस आदत से छुटकारा पाने की करें।

रोज़ाना भरपूर नींद आपके जिस्म और दिमाग़ को तवाना रखने में मदद देती है। नींद की कमी जिस्मानी, ज़हनी और नफ़सियाती सेहत पर-असर अंदाज़ होती है और आपको बूढ़ा करने के साथ साथ बदतरीन नुक़्सानात है।यही नहीं नींद की कमी आप में कई जान-लेवा अमराज़ का ख़तरा भी बढ़ा देती है जिससे आप क़बल अज़ वक़्त मौत का शिकार भी हो हैं।

अगर आप बैठते हुए ग़लत पोज़ीशन इख़तियार करते हैं तो ये अमल आपकी हड्डीयों और आसाब को थका देगा जिसके बाद आप ख़ुद को थका थका महसूस करेंगे.तवील अर्से तक ग़लत ज़ावियों से बैठना हड्डीयों को बोसीदगी का शिकार करने लगता है यूं आप वक़्त से क़बल ही जोड़ों के दर्द का शिकार हो सकते हैं.सर्दीयों के मौसम में घर को बहुत ज़्यादा गर्म कर देना, और तेज़ गर्म पानी से नहाना आपकी जल्द और बालों को ख़ुशक कर देता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.