इस कम्पनी ने की मोदी सरकार की ट्रम्प से शिकायत..

November 3, 2018 by No Comments

Rupay हमारे देश का पेमेंट नेटवर्क है। बिहार के डिप्टी मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी की अध्यक्षता वाली मंत्री स्तरीय पैनल ने डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए रुपये कार्ड के पेमेंट प्ले कैशबैक देने का फैसला किया। इसके बाद रूपी कार्ड और भीम एप द्वारा पेमेंट पर ग्राहकों को कुल जीएसटी अमाउंट का 20% या ₹100 (जो से अधिक हो)कैशबैक मिलेगा ।मोदी सरकार ने इस देशी पेमेंट नेटवर्क को प्रमोट करना शुरू कर दिए है। मोदी सरकार के प्रमोशन से इंडस्ट्री के विदेशी दिग्गज रोने लगे। मास्टर कार्ड डिजिटल पेमेंट कंपनी जो कि, अमेरिका की है उसने अपनी सरकार के पास जाकर यह शिकायत तक कर दी की मोदी सरकार अपने पेमेंट नेटवर्क को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रवाद का सहारा ले रहे हैं ।

जून महीने में अमेरिकी सरकार से की गई शिकायत में मास्टर कार्ड ने नई दिल्ली पर संरक्षणवाद या नीति अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि, इससे विदेशी पेमेंट कंपनियों को नुकसान हो रहा है ।आपसे बताते चलेगी ,मोदी सरकार की इस पहल से Rupayपेमेंट नेटवर्क को खासा मजबूती प्रदान हुई है। जिसके चलते विदेशी पेमेंट कंपनियां जैसे कि मास्टर कार्ड वीजा जैसे दिग्गज कंपनियों का असर खत्म हो रहा है ।अब हालात यह हो गए हैं कि ,भारत में एक अरब डेबिट और क्रेडिट कार्ड में आधे यानी 50 करोड़ कार्ड्स के लिए Rupay पेमेंट सिस्टम का इस्तेमाल हो रहा है ।

इससे यह बात साफ है कि ,मास्टर कार्ड जैसी कंपनियां भारत में उतनी तेजी के साथ नहीं विस्तार कर पाएंगे। मोदी ने देशी कार्ड पेमेंट नेटवर्क को यह कहते हुए बार-बार समर्थन किया कि ,रुपए का इस्तेमाल करना। जैसे कि देश भक्ति का प्रतीक होगा माना कि, आपने इस डिजिटल पेमेंट नेटवर्क से जरिए देश की सेवा की क्योंकि इसका जो ट्रांजैक्शन fee होता है ,वह देश में ही रहता है। और जाहिर सी बात है ,जब खुद का पैसा अपने ही देश में रुका रहेगा तो अपने ही देश को मजबूती प्रदान करें और यह विदेश नहीं जाएगा अर्थात इसका अन्यत्र प्रयोग नहीं होगा ।

उन्होंने यहां तक भी बातों का विवरण किया कि ,जब पैसा देश में रहेगा तो इससे अच्छी सड़कें अच्छे अस्पताल अच्छी शिक्षा व्यवस्था प्रदान होगी ।21 जून को मास्टर कार्ड में ऑफिस यूनाइटेड स्टेट ट्रेड रिप्रेजेंटेटिव यूएस पीआर को मोदी मोदी के इस रूप का हवाला देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने Rupay कार्ड के इस्तेमाल को यह कहते हुए राष्ट्रवाद से जोड़ दिया कि ,यह एक प्रकार से राष्ट्र की सेवा है। मास्टरकार्ड ने अमेरिकी सरकार का सहारा लेते हुए यह प्रस्ताव रखने को कहा कि ,भारत सरकार Rupay पेमेंट की प्रक्रिया में भ्रम फैला रही है और इसे विशेष प्रयासों से बढ़ावा दे रही है जो कि सर्वथा अनुचित है और इसे जल्द से जल्द रोका जाना चाहिए लेकिन रायटर्स द्वारा किए गए सवालों में मास्टरकार्ड ने सरकार का पूर्ण समर्थन किया। कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट सहारा इंग्लिश में कोई प्रतिक्रिया नहीं की ।अब बात यह उठती है कि, अमेरिकी सरकार ने मास्टर कार्ड द्वारा की गई शिकायत का भारत सरकार से कोई बात हुई है या नहीं इस पर सब चुप्पी साधे बैठे है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *