तिज़ारत में कामयाबी पाने का वज़ीफा, मुफ़्ती तारिक मसूद ने बताया- बस चालीस दिन कर ले ये काम…

January 9, 2019 by No Comments

दोस्तों मौलाना तारिक मसूद साहब कहते हैं कि लोग ख्वाबों को बहुत ज्यादा प्रोटोकोल देते हैं अगर आप इस्तिखारा करके आए तो उसे और ज्यादा प्रोटोकोल दिया जाता है वह जमीन की हकीकत को नहीं देखते और ख्वाबों को देख रहे होते हैं लोग यह कहते हैं कि यह ख्वाब आया है और इससे कारोबार बहुत ज्यादा चलेगा और तरक्की होंगी मौलाना कहते हैं कि अब आने पर अगर कोई इंसान दिसंबर में बर्फ बेचने लगे तो उसका कारोबार नहीं चलेगा.
मौलाना ने बताया कि एक होटल वाला था जिसकी दुकान नहीं चल रही थी उसने अपने पीर से कुछ ताबीज बनवाई जिसके बाद उसकी दुकान चलने लगी तो उसके पीर ने उनसे कहा कि दुकान तो चल गई है लेकिन दुकान 10:00 बजे बंद करनी पड़ेगी वरना कारोबार वापस लौट जाएगा अब उसके होटल में 10:00 बजे बहुत ज्यादा भीड़ होती है लेकिन वह उस पीर की वजह से होटल बंद कर देता है.

google


मौलाना ने कहा कि मुझे किसी ने बताया कि इतना ज्यादा कस्टमर होते हैं फिर भी वह इंसान सबको छोड़कर होटल बंद करके चला जाता है, मौलाना ने कहा कि वह इंसान जाहिल है उसको बोलो कि ना उस पीर की ताबीज की वजह से तुम्हारी दुकान चली है और ना ही 10:00 बजे बंद करने से तुम्हारा कारोबार ठप होगा.
मौलाना ने कहा कि वैसे तो शरीयत का हुक्म है कि रात को जल्दी सो और सुबह को जल्दी उठो लेकिन अगर पीर साहब के कहने पर ऐसा कर रहे हैं तो यह बिल्कुल सही नहीं है. दोस्तों रोजी अल्लाह के देने से मिलती है किसी पीर के ताबीज की वजह से रोजी नहीं मिलती अल्लाह ने जितनी किस्मत में लिख दी है वह मिलती रहेगी.

अगर पूरी दुनिया मिलकर यह चाहे की यह रोजी आप तक ना पहुंचे तो ऐसा नहीं हो सकता अल्लाह जब चाहता है आपको देता है और किसी पीर की ताबीज़ की वजह से आपकी रोज़ी में इजाफा नहीं होता, दोस्तों मौलाना ने कहा कि अगर पीर साहब की ताबीज से किसी का रोजगार चलता तो दुनिया में कोई भी इंसान बेरोजगार नहीं होता.
मौलाना ने कहा कि यह जो पीर साहब हैं इनका अपना बिजनेस इस ताबीज़ की वजह से चल रहा है, मौलाना ने कहा कि जो वहमी आदमी होता है उसे कभी सुकून नहीं होता उन्होंने कहा कि हमें अल्लाह ने इतनी अकल दी है कि हम हर चीज को देखकर समझ सकते हैं मौलाना ने कहा कि इंसान को तमीज सीखना चाहिए जिंदगी जीने के लिए और अल्लाह पर यकीन करना चाहिए.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *