ओवैसी को टक्कर देने के लिए भाजपा ने उतारे दो मुसलमान, क्या हो सकेगी कोई टक्कर?

हैदराबाद : तेलंगाना मे विधान सभा चुनाव 7 दिसंबर 2018 को होने है। इसके बाद तेलंगाना में दूसरी बार विधानसभा का गठन हो जाएगा। इस चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने शुक्रवार को 28 उम्मीदवारों की सूची जारी की है। सूत्रों के मुताबिक बीजेपी की संसदीय बोर्ड ने इन उम्मीदवारों के नामों को मंजूरी दे दी है। भजपा की और से तेलंगाना मामले के प्रभारी और मंत्री एन इंद्रसेना रेड्डी ने आज उम्मीदवारों की सूची को जारी किया है। तेलंगाना मे बीजेपी के अध्यक्ष डॉ. के. लक्ष्मण ने मीडिया को इस बारे मे जानकारी देते हुए बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के नेतृत्व में गुरुवार को संसदीय बोर्ड की बैठक हुई ।

इस बैठक में उम्मीदवारों के नामों पर अंतिम निर्णय लिया गया है। उन्होंने खूलासा किया है कि बीजेपी तेलंगाना के सभी 119 विधानसभा सीटों पर अपने उम्मीदवारों को खड़ा करेगी। भाजपा ने एआईएमआईएम को टक्कर देने के लिए दो मुसलमानों को भी लिस्ट में जगह दी है. इनमें से एक हैं सैयदा शहज़ादी जो अकबरुद्दीन ओवैसी के खिलाफ चन्द्रयान गुट्टा से चुनाव में उतरेंगी. बहादुरपुर से हनीफ़ अली भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे.

उल्लेखनीय है कि तेलंगाना मे 119 विधानसभा सीटें हैं। किसी भी दल को बहुमत का जादुई आँकड़ा छूने के लिए कम से कम साठ सीटें जीतना ज़रूरी हैं। इस समय यहाँ टीआर एस के चन्द्र शैखर राव मुख्यमंत्री हैं। इस बार के विधानसभा चुनाव मे तेलंगाना राष्ट्र समिति ( टीआरएस ) भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, तेलंगाना जन समिती, और तेलुगू देशम पार्टी के बीच मुख्य प्रतिस्पर्धा मानी जा रही है। इसके अलावा राज्य में चार मुख्य विपक्षी दल आईएनसी, टीजेएस, टीडीपी और सीपीआई है ।

इन दलों ने चुनाव में सत्तारूढ़ टीआरएस को हराने के उद्देश्य से ‘महाकुटुमी’ (महागठबंधन/ग्रैंड एलायंस) के गठन की घोषणा की है। पिछले चुनाव मे सत्तारुढ दल टीआरएस को 63 सीटों पर, कांग्रेस को 21 सीटों पर कामयाबी मिली थी। जबकि असदुद्दीन औवेसी की पार्टी आल इंडिया मजलिसे इत्तहादे मुसलीमीन AIMIM को सात सीटों पर जीत हासिल हुई थी। तेलंगाना मे बीजेपी को सिर्फ पाँच सीटों पर संतोष करना पड़ा था। तेलंगाना में मे इस समय 2.73 करोड़ मतदाता हैं,जिनमें 1.38 करोड़ पुरुष,एंव 1.35 करोड़ महिलाएं हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.