ट्रंप की धमकी पर सऊदी अरब ने लिया ऐसा फैसला जिससे अमेरिका की इकॉनमी ध्वस्त हो जाएगी

October 6, 2018 by No Comments

यूं तो दुनिया में सबसे शक्तिशाली माने जाने वाले अमेरिका और सऊदी अरब बहुत अच्छे दोस्त हैं। लेकिन हाल ही में अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने सऊदी अरब को भी धमकी दे डाली है। डॉनल्ड ट्रंप ने सऊदी अरब के किंग सलमान को अमेरिकी सैन्य सहयोग के बिना 2 हफ्ते भी पद पर नहीं बने रहने की बात कह डाली है। आपको बता दें कि डॉनल्ड ट्रंप बार-बार तेल उत्पादक देशों के संगठन ओपेक और सऊदी अरब पर कच्चे तेल के दाम कम करने की मांग कर रहे हैं।

अमेरिका ने दे डाली सऊदी अरब को धमकी

अभी तक ओपेक द्वारा इस मामले में कोई भी ठोस कदम नहीं उठाए गए हैं। जबकि वह अमेरिका को यह भरोसा दिलाते रहे हैं कि वह इस मामले में जल्द से जल्द कदम उठाएंगे। गौरतलब है कि सऊदी अरब बीते कुछ समय से अमेरिका के साथ रिश्ते बेहतर करने पर काम कर रहा है। लेकिन इन दोनों देशों के बीच कच्चे तेल की बढ़ती कीमतें आड़े आ रही हैं।

85 डॉलर प्रति बैरल पहुंचा कच्चा तेल

गौरतलब है कि ब्रेंट क्रूड ऑयल का बेंचमार्क इस वक्त 85 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच चुका है। जिसके चलते अमेरिका ओपेक पर इसे कम करने का दबाव बना रहा है। खबर सामने आई है कि सऊदी अरब और रूस ने सितंबर में ही तेल की कीमत को दबाने और इसके उत्पादन को बढ़ाने के लिए एक निजी सौदा किया है। इस बात के संकेत भी मिल रहे हैं कि सऊदी किंग सलमान अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप द्वारा तेल की कीमतों को कम करने के दबाव के चलते जवाबी कार्रवाई करने की सोच रहे हैं। इस मामले में ऐसा लग रहा है कि रूस और सऊदी अरब के बीच हुए निजी सौदे के बारे में डॉनल्ड ट्रंप को सूचित नहीं किया गया था।

सऊदी अरब और रूस ने मिलकर किया ये काम

जिसके चलते अभी तक वह चिंता में ही बने हुए थे आपको बता दें कि हाल ही में राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के दौरान बढ़ रही तेल की कीमतों के लिए उपे को दोषी ठहराया है। सूत्रों के मुताबिक रूस और सऊदी बाजार इस तरह से बैरल को जोड़ने के लिए चुपचाप काम करने लगे हैं उससे साबित होता है कि वह डॉनल्ड ट्रंप के आदेश पर ही काम कर रहे हैं हालांकि इस मामले में तेल बाजार को कोई जानकारी नहीं है इसके साथ ही तथ्य यह भी है कि सऊदी अरब और रूस ने तेल के उत्पादन को बढ़ाने का फैसला ले लिया है।

सऊदी किंग को ट्रम्प ने दी थी धमकी

बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने अपने ही करीबी देश सऊदी अरब के लिए एक काफी अजीबोगरीब सा बयान दिया था। ट्रंप ने कहा है कि अगर अमेरिका सऊदी अरब को देने वाली अमेरिकी सेना की मदद बंद कर दे तो किंग सलमान अपनी कुर्सी पर 2 हफ्ते तक भी नहीं टिक पाएंगे। माना जा रहा है कि यह बयान दोनों ट्रंप द्वारा सऊदी अरब को दी गई एक चेतावनी है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *