हिटलर की राह पर ट्रम्प; लिया बड़ा फ़ैसला

वाशिंगटन डीसी: अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 20 जनवरी 2017 को राष्ट्रपति पद संभाला है लेकिन तब से ही उन्होंने ऐसे फ़ैसले लिए हैं जिसकी वजह से उन्हें लगातार विवाद का सामना करना पड़ा है.

TPP और पेरिस ट्रीटी से अमरीका को अलग कर चुके डोनाल्ड ट्रम्प ने एक चौंकाने वाले फ़ैसले में USA को UNESCO से अलग कर दिया.संयुक्त राष्ट्र की कल्चरल बॉडी से USA का अलग होना विश्व के लिए अच्छा संकेत नहीं माना जा रहा है. ट्रम्प ने UNESCO से अलग होने को लेकर इसका “इजराइल के विरुद्ध” होना बताया.

अमरीका के फ़ैसले के बाद इजराइल ने भी UNESCO से अपने को अलग कर लिया है.

गौर करने वाली बात है कि वर्ष 1933 में जर्मनी के तानाशाह अडोल्फ़ हिटलर ने भी इसी तरह का फ़ैसला लिया था. हिटलर ने जर्मनी को लीग ऑफ़ नेशन्स से अलग कर लिया था. कुछ इतिहासकार इसको दूसरे विश्व युद्ध की पहली आहट के तौर पर देखते हैं. दूसरे विश्व युद्ध में दुनिया ने भारी तबाही देखी थी और दुनिया का नक्शा पूरी तरह से बदल गया था.

डोनाल्ड ट्रम्प की नीति को भी कई जानकार युद्ध को भड़काने वाली बताते हैं. डोनाल्ड ट्रम्प के राष्ट्रपति बनने के बाद नार्थ कोरिया और ईरान से अमरीका के रिश्ते ख़राब हुए हैं. इसके अलावा वेनेज़ुएला, क्यूबा और मेक्सिको से भी रिश्ते ख़राब करने में ट्रम्प ने कोई कसार नहीं छोड़ी. ट्रम्प ने कई बार नार्थ कोरिया के नेता किम जोंग अन को “लिटिल राकेट मैन” कहा है और नार्थ कोरिया को नेस्तनाबूद करने की भी धमकी दी है. अब इस नए फ़ैसले का दुनिया भर में क्या असर पड़ता है ये तो देखने वाली बात होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.