Breaking:तालि-बान सरकार को मान्यता देने पर तुर्की का एलान,एर्दोगान बोले-हम उनको..

September 8, 2021 by No Comments

तुर्की विदेश मंत्री मेवलुत चाउसोलो ने कहा है कि वे ता-लिबान को मान्यता देने की जल्दबाज़ी में नहीं हैं.उन्होंने कहा कि दुनिया को भी जल्दबाज़ी करने की ज़रूरत नहीं है. तुर्की के विदेश मंत्री ने कहा कि एक संतुलित रुख़ की ज़रूरत है. उन्होंने कहा कि तुर्की चीज़ों के हिसाब से फ़ैसला लेगा.

मेवलुत चाउसोलो ने कहा, ”हमलोग उम्मीद करते हैं कि अफ़ग़ानिस्तान गृह यु’द्ध की तरफ़ नहीं बढ़ेगा. वहां संक’ट और भुखम री की स्थिति पैदा हो रही है. हमलोग काबु-ल एयरपोर्ट को लेकर क़तर और अमेरिका से बात कर रहे हैं.”

मंगलवार को तालि बा-न ने अफ़ग़ानि-स्तान में अंतरि-म सरकार की घोषणा की है. मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंद सरकार के मुखिया यानी प्रधानमंत्री होंगे और मुल्ला अब्दुल ग़ नी बरादर उप प्रधानमंत्री होंगे. बरादर तालि-बान के सह संस्थापक हैं. मुल्ला अब्दुल सलाम हनफी को भी उप प्रधानमंत्री बनाया गया है.


तुर्की के विदेश मंत्री मेवलुत चाउसोलो ने टर्किश प्रसारक एनटीवी को दिए इंटरव्यू में कहा कि तुर्की तालि बा-न से धीरे-धीरे संबंधों को आगे बढ़ाएगा.जून महीने में तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप अर्दोआन ने अमेरिकी राष्ट्रपति के सामने का बुल एयरपोर्ट की सुर-क्षा की ज़िम्मेदारी लेने का प्रस्ताव रखा था.


लेकिन तालि-बान के मज़बूत होने के कारण अफ़ग़ा-निस्तान में सु-रक्षा व्यवस्था ध्व-स्त होती गई.मिडल-ईस्ट आई के अनुसार तुर्की और क़तर तालि-बान के साथ काबुल एयर-पोर्ट को लेकर समझौते के क़रीब हैं. कहा जा रहा है कि तुर्की का-बुल एयरपोर्ट के बदले तालि-बान को मान्यता दे सकता है.

मिडल ईस्ट आई का कहना है कि तुर्की एक निजी फर्म के ज़रिए काबुल एयरपोर्ट को सु़र-क्षा मुहैया कराएगा. इसमें पूर्व सैनि-कों और पुलि-स बलों को ज़िम्मेदारी दी जाएगी.चाउसोलो ने कहा कि अफ़ग़ानिस्तान की सरकार को समावेशी होना होगा. उन्होंने कहा कि अगर सरकार में केवल तालि-बान ही होगा, तो दिक़्क़त होगी.

चाउसोलो ने कहा, ”गृह यु-द्ध में घिरने से अच्छा है कि ता-लिबान समावेशी सरकार का गठन करे. समावेशी सरकार को पूरी दुनिया स्वीकार करेगी. अफ़ग़ान महिलाओं को भी सरकार में ज़िम्मेदारी मिलनी चाहिए.”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *