‘सोने को तपाया जाता है तो उसका क्या होता है?’-लालू प्रसाद यादव

December 30, 2017 by No Comments

पटना: राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव फ़िलहाल जेल में हैं. उन्हें चारा घोटाले से जुड़े एक मामले में सीबीआई अदालत ने दोषी क़रार दिया है. हालाँकि लालू और उनके चाहने वालों का मानना है कि ऊपरी अदालत में जब ये मुक़दमा सुना जाएगा तो वो बेगुनाह साबित होंगे. लालू ने जेल में रहते हुए अपना ट्विटर अकाउंट संभालने की ज़िम्मेदारी अपनी टीम को दे दी है.

उनके अकाउंट से आज ट्वीट किया गया है,”सोने को तपाया जाता है तो उसका क्या होता है?”. इस ट्वीट का मतलब अगर समझें तो यही है कि उन्हें जितना सताया जा रहा है वो उतना ही और बेहतर होकर उभरेंगे. इस ट्वीट के ज़रिये उन्होंने अपने विरोधियों को निशाना बनाने की कोशिश की है.

लालू के जेल जाने के बाद लालू को बिहार और देश के लोगों का समर्थन मिला है.वरिष्ट नेता शरद यादव का कहना है कि लालू को फँसाने में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का हाथ है. यादव ने कहा कि उन्हें लगता था कि अदालत उनके बेगुनाह होने का फ़ैसला सुनाएगी. हालाँकि उन्होंने कहा कि ऊपरी अदालत में वो बेगुनाह साबित होंगे.

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजश्वी यादव ने कहा कि कंस को लग रहा है कि जेल में बंद कर खतरा खत्म हो गया। उन्हें पता नहीं कि काल तो अब जन्म लेगा. इसके अलावा उन्होंने आज ट्वीट किया,”बदल देंगे उन ताक़तों को जिनसे सत्ता घूमी है…लालू जी के साथ खड़ी ये बिहार की भूमि है।” तेजश्वी के मुताबिक़ लालू यादव ने भाजपा से हाथ नहीं मिलाया इसीलिए उन्हें ऐसी परिस्थिति का सामना करना पड़ रहा है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *