उबेर और lyft ने मुस्लिम-विरोधी महिला पर लगायी पाबंदी; जानिये पूरा मामला

टैक्सी सर्विस उबेर और lyft ने महिला को मुस्लिम विरोधी ट्वीट करने की वजह से बैन कर दिया है.मंगलवार को हुए आतंकवादी हमले में जहां कुछ लोग अमन शान्ति की अपील कर रहे हैं तो कुछ लोगों को इसमें भी नफ़रत फैलाने का मौक़ा मिल गया है. दक्षिण पंथी महिला लौरा लूमेर ने इस आतंकी हमले के बाद ट्विटर पर मुसलमानों के ख़िलाफ़ tweets किये.

एक ट्वीट में वो कहती हैं,”उबेर क्यूँ इस्लामिक आतंकवादियों को नौकरी दे रहा है?”. वो आगे कहती हैं कि किसी को उबेर ओर lyft का नॉन-इस्लामिक फॉर्म बनाना चाहिए क्यूंकि मैं कभी भी इस्लामिक इमिग्रेंट ड्राईवर को सपोर्ट नहीं करेंगी. उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा कि वो 30 मिनट से उबेर और lyft की नॉन-मुस्लिम टैक्सी ढूंढ रही हैं और उन्हें नहीं मिल रही है.

1 लाख 8 हज़ार फॉलोवर्स की मदद से उनके ट्वीट जल्दी ही वायरल हो जाते हैं. जानकारों के मुताबिक़ इसी का फ़ायदा उठाकर वो विवादित ट्वीट करती हैं. उबेर ने इस बारे में एक बयान जारी कर कहा है कि लूमेर ने कम्युनिटी गाइडलाइन्स का उल्लंघन किया है. उबेर ने उन्हें बैन कर दिया है. वहीँ lyft ने भी उनको बैन करने का फ़ैसला किया है. हालाँकि इस बैन पर लूमेर ने कहा कि वो बिलकुल भी परेशान नहीं हैं और वो अपने लिए ड्राईवर रख लेंगी.

गौरालब है कि सय्फुल्लो सैपोव नाम के 29 वर्षीय आरोपी ने मेनहट्टन के साइकिल पथ पर ट्रक चला कर 8 लोगों को मार डाला था. उसके बारे में कहा जा रहा है कि वो ISIS से प्रेरित था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.