उमरान मलिक को मिलेगी सरकारी नौकरी? जम्मू-कश्मीर सरकार ने किया एलान, माँ ने ख़ुशी में..

क्रिकेट एक ऐसा खेल है जिसके लिए हमारे देश के लोग दीवाने हैं. आईपीएल क्रिकेट का ऐसा टूर्नामेंट होता है जिसमें देश के अलग-अलग क्षेत्रों की टीमें भाग लेती हैं. इसमें पुराने खिलाड़ियों के साथ नए खिलाड़ियों को भी अपना जौहर दिखाने का मौक़ा मिलता है. इस बार का आईपीएल भी बहुत शानदार रहा, लोगों ने इसे बहुत पसंद किया.

उमरान आईपीएल के इस सीजन में सर्वाधिक विकेट झटकने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में चौथे नंबर पर रहे. टीम इंडिया में चयन के बाद जम्मू एक्सप्रेस उमरान मलिक पहली बार बीते मंगलवार को जम्मू लौटे. जम्मू के गुज्जर नगर स्थित उमरान के घर उप राज्यपाल मनोज सिन्हा भी पूरे परिवार को बधाई देने पहुंचे थे.

राज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा उमरान के खेल प्रशिक्षण और अन्य सुविधाओं का जम्मू-कश्मीर सरकार ध्यान रखेगी।. खेल नीति के तहत अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश का प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ी को राजपत्रित पद पर नौकरी का प्रावधान है. उमरान यदि चाहें तो उन्हें खेल नीति के तहत नौकरी दी जाएगी.

उमरान ने उप राज्यपाल को खुद मिठाई खिलाई. 157 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से फेंकी गई गेंद इस सीजन में सबसे तेज गेंद रही. तीन माह बाद घर लौटे उमरान को खीर पसंद है. उमरान की मां ने कहा, उमरान को खीर बहुत पसंद है इसलिए उसकी पसंद की खीर बनाई है.

मुझे पूरी उम्मीद है कि बेटा इसी तरह से अपने प्रदर्शन से देश और परिवार को गर्व महसूस करवाता रहेगा. उमरान के पिता भी बेटे की सफलता पर फुले नहीं समां रहे हैं.  उन्होंने कहा कि उमरान को बीसीसीआई की ओर से फिलहाल कोई इंटरव्यू न देने को कहा गया है, इसलिए वह मीडिया से बात नहीं कर सकता, लेकिन वे सभी का तहेदिल से शुक्रिया अदा करना चाहते हैं