UNSC में अमरीका झुका? नार्थ कोरिया के ख़िलाफ़ पारित हुआ कमज़ोर प्रस्ताव

न्यूयॉर्क सिटी: संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् में उत्तरी कोरिया के ख़िलाफ़ नए प्रतिबन्ध लगाने को लेकर प्रस्ताव पारित हो गया. इस प्रस्ताव को 15-0 से पारित किया गया जिसका अर्थ है कि चीन और रूस जैसे देशों ने भी इस प्रस्ताव का समर्थन किया. उत्तरी कोरिया के लगातार परमाणु परीक्षण करने के बाद और हाइड्रोजन बम का परीक्षण करने के बाद अमरीका ने उस पर सख्त प्रतिबन्ध की वकालत की थी जबकि उत्तरी कोरिया ने अमरीका को बार बार युद्ध की चेतावनी दी है. हालाँकि अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प जिन प्रस्तावों को पारित करवाना चाहते थे उनमें से अधिकतर हटा लिए गए थे. इसका अर्थ है कि एक कमज़ोर प्रस्ताव UNSC में पारित हो गया.

दूसरी ओर उत्तर कोरिया ने पहले ही चेतावनी दी है कि अगर प्योगयांग के ख़िलाफ़ संयुक्त राष्ट्र में प्रस्ताव को मंज़ूरी मिलती है तो उसकी अमरीका को कड़ी क़ीमत चुकानी होगी.

कल उत्तरी कोरिया के विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा था कि वह अमरीका के क़दमों पर नज़र रख रहा है और वो जवाबी कार्यवाही के लिए तैयार भी है और इच्छुक भी.

एक नज़र में कुछ अन्य ख़बरें भी..
1. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफ़ोर्निया, बर्कले में ‘इंडिया ऐट 70: रिफलेक्शन ऑन द पाथ फॉरवर्ड’ प्रोग्राम में बात करते हुए कहा कि अगर उन्हें प्रधानमंत्री का पद दिया जाता है तो वो उसे स्वीकार करेंगे.

2. केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री किरेन रिजीजू अपने ही बयान से पलट गए. उन्होंने सोमवार को सरकार का पक्ष रखते हुए कहा कि रोहिंग्या लोगों को वापिस म्यांमार भेजने की बात सही नहीं है. उन्होंने कहा कि सरकार ने राज्य सरकारों से सिर्फ़ अवैध इमिग्रेंट्स को पहचानने और उनके बारे में कार्यवाही की शुरुआत की बात कही थी.

3. श्रीनगर में राजनाथ सिंह ने कहा कि कश्मीर की हालत में अब सुधार है.उन्होंने कहा,”5 बार क्या, अगर एक साल में पचास बार भी कश्मीर आना पड़ा तो मैं आऊंगा”

Leave a Reply

Your email address will not be published.