योगी के मंत्री ने दिया चौंकाने वाला बयान- ‘ग़रीब ने बच्चा स्कूल नहीं भेजा तो उसे थाने में बिठाऊंगा’

लखनऊ: स्कूलों में बच्चों को पढ़ने भेजना चाहिए और इसके लिए सरकार को आम लोगों से संपर्क भी करना चाहिए लेकिन उत्तर प्रदेश के मंत्री ने इसी बारे में एक ऐसा बयान दिया है जो उनके लिए मुसीबत बन सकता है.

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के मंत्री ओपी राजभार ने एक स्कूल में बच्चों से कहा कि ग़रीब लोग अपने बच्चों को विद्यालय भेजें इसके लिए वो क़ानून बनायेंगे, उन्होंने कहा कि उस क़ानून में ऐसा रहेगा कि अगर किसी ग़रीब ने अपना बच्चा स्कूल नहीं भेजा तो उसे पांच दिन बिना खाने-पानी के थाने में बिठाया जाएगा.

ANI समाचार एजेंसी ने इसके बारे में एक वीडियो जारी किया है. वीडियो में राजभार कह रहे हैं,”…तो हम अभी वो क़ानून अपने मन का बनाने वाला हूँ जिस ग़रीब का बच्चा विद्यालय नहीं जाएगा उसके माँ-बाप को पांच दिन थाने में बिठाऊंगा. ना पानी पीने दूंगा ना खाना दूंगा…”

वो आगे एक क़िस्सा सुनाते हुए दुबारा इसी मुद्दे पर आते हैं और कहते हैं कि अगर किसी ग़रीब ने अपना बच्चा स्कूल नहीं भेजा तो ये सोच लेना कि 6 महीने के बाद उसे थाने में पहुँचा दूंगा चाहे भले मुझे फाँसी हो जाए.

सबसे चौंकाने वाली बात ये भी है कि वो ये बयान स्कूली बच्चों के सामने दे रहे हैं. हो सकता है राजभार जो कहना चाह रहे हों वो इससे अलग हो लेकिन जो वो कहते नज़र आ रहे हैं उससे वो एक विवाद में तो फँस ही गए हैं. गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में ग़रीबों को शिक्षित करने के प्रयास लगातार सरकारें करती रही हैं लेकिन ग़रीबी की वजह से वो बच्चों को सरकारी स्कूल भी नहीं भेज पाते. इसकी वजह अक्सर ये रहती है कि बच्चों को भी घर की मदद करने के लिए बाल-मज़दूरी करनी पड़ती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.