‘जब राजीव गाँधी ने कंप्यूटर की बात की थी तो वाजपयी ने उन्हें पागल कहा था लेकिन’

November 29, 2017 by No Comments

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने आज गुजरात चुनाव के सिलसिले में एक सभा में कहा कि कम से कम गुजरात के हर व्यक्ति को क्या मिलेगा.. बेसिक फंडामेंटल चीज़ें सबको मिलना चाहिए.. कोई अगर बेहतर काम करे तो वो आगे चला जाएगा लेकिन बेसिक मिनिमम चीज़ें तो सबको ही मिलनी चाहियें.

उन्होंने कहा कि प्राइवेट संस्थान ज़रूरी हैं लेकिन गुजरात सरकार पब्लिक इंस्टिट्यूट को ख़त्म करने की कोशिश में है. उन्होंने कहा कि देश के सबसे अच्छे इंस्टिट्यूट सरकारी हैं. इसके अलावा उन्होंने कहा,”आने वाले दिनों में रोज़गार का कम्पटीशन दो देशों के बीच है, एक चीन और दूसरा भारत.. अब सवाल ये है कि रोज़गार चीन जाएगा या भारत आएगा.. हर दिन 30 हज़ार लोग रोज़गार बाज़ार में आते हैं और भारत सरकार सिर्फ़ 450 लोगों को रोज़गार दे पाती है.”

राहुल ने कहा,”हर पार्टी के राजनेता को ये एक्सेप्ट कर लेना चाहिए कि कम्पटीशन चीन के साथ है,जिस दिन देश ने जॉब पर फोकस डाल दिया उस दिन आपकी जेब मेड इन इंडिया मेड इन गुजरात फ़ोन होगा.हिन्दुस्तान के किसान का प्रॉफिट-लोस हमेशा लोस में ही चलता है.. वो हमेशा नुक़सान में ही रहता है..जब धर्म के बारे में, मारपीट के बारे में चर्चा होती है तो देश का नुक़सान होता है”.

उन्होंने कहा कि वाजपयी जी ने कहा था कि राजीव गाँधी पागल है क्यूंकि उन्होंने कंप्यूटर की बात की थी लेकिन राजीव गाँधी की सोच सही थी. राहुल ने कहा कि लीडरशिप वो होती है जो पावरफुल डिसिशन ले लेते हैं और लोगों को पता भी नहीं लगता, सब आराम से हो जाता है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *