विराट कोहली और सभी बड़े खिलाड़ियों को दिया मोदी सरकार ने झटका

September 25, 2018 by No Comments

अगर आपसे पूछा जाए कि भारत मे सबसे कमाई करने वाले दो क्षेत्र कौन से हैं तो आप का जवाब निश्चित रूप से फ़िल्म उद्योग और क्रिकेट जगत ही होंगे। इन दोनों क्षेत्रों की एक बड़ी खू़बी यह भी है कि अपने अपने क्षेत्रों के अलावा यह लोग विज्ञापनों से भी अच्छी कमाई कर लेते हैं।

यही कारण है कि अमिताभ बच्चन,शाहरुख ख़ान से लेकर रणबीर कपूर तक फिल्म स्टार विज्ञापन मे नज़र आते हैं तो वहीं सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली से लेकर आइपीएल खेलने वाले खिलाड़ी भी रोज़ टीवी पर आप को तरह तरह के विज्ञापनों मे नज़र आते है।

अगर अकेले क्रिकेटर विराट कोहली की ही बात करें तो विज्ञापनों से उनकी कमाई करोड़ों में है ।आपको बता दें कि कोहली के पास इस समय.न्यू एरा, टिसोट, ओकले, उबर, पूमा, ऑडी, कोलगेट पॉमोलिव, हर्बललाइफ और पेप्सी जैसे बड़े ब्रांड है ,जिनका वह प्रमोशन करते हैं ।

इस संबंध में फोर्ब्‍स की एक रिपोर्ट बहुत दिलचस्प है जिसके अनुसार विराट कोहली ने वर्ष 2017-2018 मे 4 मिलियन डॉलर यानी क़रीब 29 करोड़ रुपये क्रिकेट से सैलेरी के तौर पे कमाए हैं।और वहीं इसी दौरान 20 मिलियन डॉलर यानी क़रीब 145 करोड़ रुपये उन्होंने विज्ञापन के माध्यम से कमाये हैं ।

अगर खिलाड़ियों की बात करें तो इनको सरकारी उपक्रमों मे नोकरी भी मिल जाती है।जो अपने आप मे एक अतिरिक्त आय का स्रोत है । ऐसा ही एक सरकारी उपक्रम है ओएनजीसी।इस सरकारी उपक्रम के साथ 179 खिलाड़ी जुड़े हुए हैं ।

ओएनजीसी का कहना है कि इन खिलाड़ियों से औएनजीसी को को ख़ास फ़ायदा नहीं मिल पा रहा है । इसलिए अब यह तय किया गया है कि इस उपक्रम से अनुबंधित सभी खिलाड़ी खेल के मैदान मे अपने कपड़ों पर कंपनी का लोगो लगायेंगे। ओएनजीसी से जुड़े ख़िलाड़ियो मे कुछ प्रमुख नाम विराट कोहली ईशांत शर्मा, गौतम गंभीर, प्रवीण कुमार, मुनाफ पटेल, आदि के हैं । यानी यह खिलाड़ी जल्द आप को ONGC का प्रचार करते नज़र आ सकते हैं। मोदी सरकार के इस फ़ैसले का सबसे अधिक नुक़सान उन खिलाड़ियों को हुआ है जो नाम कमा चुके हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *