व्यापम के अपराधियों को सज़ा दिलवानी है तो BJP सरकार को हटाना होगा: दिग्विजय सिंह

भोपाल/नई दिल्ली: वरिष्ट कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने व्यापम घोटाले की जांच को बहुत धीमा क़रार दिया है. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्विटर के ज़रिये इस मामले में टिपण्णी दी. उन्होंने कहा,”जिस रफ़्तार से सीबीआई व्यापम की जॉंच कर रही है मुझे नहीं लगता कि इस सदी में यह जॉंच पूरी हो पाएगी।”

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बारे में उन्होंने कहा कि शिवराज भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के सामने घुटने टेक चुके हैं. उन्होंने कहा,”लगता है शिवराज ने मोदी अमित शाह के सामने दण्डवत कर आत्म समर्पण कर दिया है। घुटने टेक दिए हैं। वे भी शिवराज को बचाने में लग गए हैं।”

अगले साल होने वाले मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि अगर व्यापम घोटाले के अपराधियों को लोग सज़ा दिलवाना चाहते हैं तो प्रदेश और देश में भाजपा सरकार बदलनी पड़ेगी. उन्होंने कहा,”अगर व्यापम के दुष्ट अपराधियों को सज़ा दिलवानी है तो मप्र और देश में भाजपा सरकार बदलनी पड़ेगी।”

आल इंडिया कांग्रेस समिति के जनरल सेक्रेटरी ने इसके इलावा भाजपा के अंदरूनी कलह पर भी कटाक्ष किया. उन्होंने कहा,”अडवाणी जी ने ठीक कहा था मोदी एक अच्छे इवेंट मैनेजर हैं जिसकी सज़ा अडवाणी जी अब भुगत रहे हैं।”

कुछ अन्य ख़बरें, एक नज़र में
1. उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने आज कहा कि राजनीति में वंशवाद होना राजनीति के लिए अच्छा नहीं है. उन्होंने कहा कि वो ये बात किसी पार्टी विशेष या व्यक्ति विशेष को ध्यान में रखकर नहीं कह रहे हैं.

2. राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने कानपूर में “स्वच्छता ही सेवा” कैंपेन को शुरू किया. ये अभियान 2 हफ़्ते तक चलेगा जिसमें लोगों को सफ़ाई और उससे जुड़े फ़ायदों के बारे में जागरूक किया जाएगा.

3. समाजसेवी मेधा पाटकर और उनके 37 साथी छोटा बरदा में “जल सत्याग्रह” कर रहे हैं. पाटकर और उनके साथियों की मांग है कि जो लोग सरदार सरोवर बाँध की वजह से बेघर हुए हैं उन्हें बसाया जाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.