“वी लव एर्दोगन” के नारे से गूँजा अमरीका

September 26, 2018 by No Comments

इस समय अगर सबसे अधिक पॉपुलैरिटी किसी नेता की मुस्लिम समाज के बीच है तो वो रजब तैयब एरदोगन ही हैं। एरदोगन ने पिछले सालों में शानदार पॉपुलैरिटी हासिल की है। यूँ तो वो तुर्की के राष्ट्रपति हैं लेकिन उन्हें तुर्की के बाहर भी बहुत समर्थन हासिल है। ये इस प्रकार का है कि जहाँ वो जाते हैं लोग उन्हें देखने पहुँच जाते हैं। कुछ ऐसा ही संयुक्त राज्य अमरीका में देखने को मिला है।

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोगन रविवार को न्यूयॉर्क पहुंचे जहां उन्होंने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 72 वें सत्र में भाग लिया। इस दौरान एर्दोगान UN चीफ ने एर्दोगान से मुलाक़ात की साथ उन्होंने सीरिया में तुर्की के सहयोग की सराहना की।

जहाँ तुर्कों, फिलिस्तीनी और अन्य मुसलमानों ने होटल के आस-पास राष्ट्रपति एर्दोगान के आगमन के लिए इंतजार किया जहां अमेरिकी पुलिस ने गहन सुरक्षा के इतेज़मात किये। एर्दोगान के इन सभी प्रशंसकों ने तुर्की झंडे और ‘वी लव एर्दोगान’ के बैनर के साथ गर्मजोशी से एर्दोगान का स्वागत किया। “हक़ के लिए खड़े रहो, रुकना मत हम आपके साथ है।

उनके आगमन पर, राष्ट्रपति एर्दोगान और साथ में यूरोपीय संघ के मंत्री ओमेर सेलिक, विदेश मंत्री मेव्लुत कावुसोग्लू और ऊर्जा और प्राकृतिक संसाधन मंत्री बेरेट अल्बाराक ने उन लोगों को बधाई दी। इस दौरान प्रशंसकों ने एर्दोगान से मुलाक़ात कर उन्हें गले लगाया है. एर्दोगान ने कहा की वह अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प से भी मुलाक़ात कर सकते है।

एरदोगन की पॉपुलैरिटी में इस क़दर बढ़त हुई है कि कई वैश्विक नेता उनसे घबराने लगे हैं। स्थिति ये है कि अब तुर्की को समूचे मुस्लिम समाज का नेता कहा जाने लगा है। यही नहीं कुछ लोग उन्हें मुस्लिम समाज का अघोषित ख़लीफ़ा तक कह रहे हैं। यही वजह है कि एरदोगन लगातार चर्चाओं में बने रहते हैं। हाल ही में तुर्की और अमरीका के संबंधों में भारी गिरावट आयी।

Landscape Sultanahmet Turkey Islam Cami Istanbul


अमरीका ने तुर्की को दबाने की कोशिश की लेकिन तुर्की पहले से ही काफ़ी तैयार था और इस कारण उसने अमरीका की एक न सुनी। एरदोगन ने जिस प्रकार कुछ ही सालों में तुर्की को विश्व सत्ता के केंद्र में ला दिया है ये कमाल ही है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *