भाजपा नेता का बयान-“हमें सत्ता चाहिए और बार-बार चाहिए”

September 26, 2018 by No Comments

यह तो जग ज़ाहिर है कि राजनीति मे सभी दलों का लक्ष्य सत्ता तक पहुंचना ही होता है ।लेकिन ज़्यादा तर राजनीतिक दल इस बात को खुलकर स्वीकार नहीं करते हैं। अक्सर राजनीति दल यही कहते रहते है कि वह जनता के सेवक हैं और जनता के लिए ही राजनीति मे हैं।लेकिन बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री राम माधव ने मंगलवार को बिड़ला सभागार में दीनदयाल स्मृति व्याख्यान में संबोधन मेें जो कहा वह अक्सर सुनने को नहीं मिलता है ।

उन्होंने पंडित दीनदयाल के राजनीतिक द्रष्टिकोण को सामने रखते हुए कहा कि पंडित दीनदयाल ने हमें राष्ट्र और जनता के लिए करना राजनीति करना सिखाया है , लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हमें सत्ता नहीं चाहिये ।उन्होंने आगे कहा हमें सत्ता चाहिए, बार-बार चाहिए और राजस्थान जैसे राज्य में रीति-रिवाज, परंपरा तोड़कर दोबारा चाहिए। उल्लेखनीय है कि इस कार्यक्रम का आयोजन एकात्म मानव दर्शन अनुसंधान एवं विकास प्रतिष्ठान की ओर से किया गया था।

इस व्याख्यान के दौरान उन्होंने कश्मीर मुद्दे पर भी बात की। उन्होंने भारत के विभाजन, महागठबंधन को लेकर कांग्रेस पर कई हमले भी किए और जमकर आरोप भी लगाए। उन्होंने कहा, राजनीति पराक्रम की होनी चाहिए, जबकि कांग्रेस मे पराक्रम नहीं है । कांग्रेस ने आज़ादी से पहले ही पराक्रम की राजनीति को छोड़ दिया था।।कांग्रेस को देश के विभाजन का ज़िम्मेदार ठहराते हुए उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस के अपराक्रम के कारण ही 1947 में देश का विभाजन हुआ था।

उन्होंने कश्मीर मुददे पे बात करते हुए कहा कि राष्ट्रहित में हम सब कुछ छोड़ने को तैयार रहते हैं। एक समय राममंदिर आंदोलन के लिए हमने वी.पी सिंह सरकार का साथ छोड़ा था ।उसी प्रथा को आगे ले जाते हुए हम अब कश्मीर में सरकार से बाहर आ गये है। उल्लेखनीय है कि कश्मीर मे महबूबा मुफ्ती की पीडीपी और बीजेपी मे गठबंधन था। कुछ समय पहले बीजेपी ने खुद को इस गठबंधन से अलग कर लिया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *