“कासगंज में वही हुआ जो भाजपा चाहती थी”

January 27, 2018 by No Comments

राजद नेत्री मीसा भारती ने उत्तर प्रदेश के कासगंज हिंसा पर कमेंट किया है. उन्होंने ट्वीट करते हुआ कहा कि कासगंज में वही हुआ जो भाजपा चाहती थी, मुस्लिम बहुल इलाकों में “गोलियों की आरती”,”हिंदुस्तान में रहना है तो..” जैसे भड़काऊ गाने बजा मुँह पर चिढ़ाया जाता है, ग़द्दार-पाकिस्तानी कहा जाता है ताकि दंगा भड़के, लोग मरें, साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण हो और लाशों से राजनीति चमके. मीसा भारती ने कहा कि जिस आरएसएस ने 50 तक तिरंगे का सम्मान नहीं किया वही आज तिरंगे के नाम पर फ़साद कर रही है. मीसा ने कहा कि कासगंज में मक़सद सिर्फ़ दंगा भड़काना था.

उन्होंने कहा कि इस तरह की अफ़वाहें फैलायी जाती हैं कि मुसलमान तिरंगा नहीं फहराते, कासगंज में जब मुस्लिम तिरंगा फहरा रहे थे तो उन्हें भगवा झंडा फहराने कहा गया! मक़सद बस किसी भी सूरत में दंगा भड़काना था। जिस संघ ने 50 साल तक तिरंगा नहीं अपनाया, आज वही तिरंगे के नाम पर देश बाँट रहे हैं।

राजद नेत्री ने कहा कि चाहे कासगंज हो या करणी सेना या फिर गौ-राक्षस…सन्देश सिर्फ़ यही है कि हर साल नौकरियाँ ना दे पाने की वजह से इन्हीं तरह से लोगों को भटकाया जाएगा. उन्होंने कहा कि इस बात को देश के युवाओं को जल्द ही समझना होगा. उन्होंने ट्वीट किया,”कासगंज हो, करणी, मोबलीनचिंग या गौ राक्षस- साफ सन्देश यही है कि हर साल दो करोड़ नौकरी का वादा करके मानव संसाधन को दिग्भ्रमित कर इन्हीं राक्षसी कामों में भटकाया जाएगा। यह बात देश के युवा जितना जल्दी समझ लें, देश के लिए उतना ही बेहतर!”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *