इमरान प्रतापगढ़ी की पॉपुलैरिटी से इतना डर क्यूँ?

मशहूर शा’इर इमरान प्रतापगढ़ी को आजकल ट्रोल किया जा रहा है. ट्रोल करने वाले लोगों के पास यूँ तो कोई कारण नहीं है लेकिन एक पोपुलर इंसान की पॉपुलैरिटी से कुछ अपने लिए चुरा लेने वाली बात हो सकती है. ऐसे ही एक फ़ेसबुक ट्रोल ने अपने कई साथियों के साथ मिलकर इमरान के ख़िलाफ़ अभियान छेड़ रखा है. इन लोगों की नाराज़गी की वजह ये है कि इमरान ने AIMIM का प्रचार नहीं किया और कांग्रेस का कर दिया.

इसमें भी कोई बुराई नहीं, आलोचना करने का अधिकार सबको है लेकिन कोई उन्हें “दलाल” कहने पे उतारू हो तो थोड़ा गंभीर बात हो जाती है. सबसे बड़ी मुश्किल ये है कि जो लोग इमरान को “दलाल” कह रहे हैं वो कौन हैं? क्या उनके बारे में लोगों की राय अच्छी ही है या उन्होंने किसी को सही या ग़लत साबित करने का ठेका सा ले लिया है. ऐसा लगता है जैसे ये लोग इमरान प्रतापगढ़ी की पॉपुलैरिटी से परेशान हैं. अब अगर कोई इस बात को लेकर परेशान हैं तो कोई क्या ही कर सकता है.

अब इसी ट्रोल ग्रुप ने नया ड्रामा शुरू किया है कि इमरान की वजह से एक हिंदी वेबसाइट ने 5 पत्रकारों को नौकरी से निकाल दिया. ट्रोल ग्रुप का कहना है कि इस वेबसाइट में इमरान के ख़िलाफ़ एक ख़बर लगायी गयी थी जिसे इमरान ने दबाव डाल कर हटवा दिया और बाद में 5 लोगों को उनके स्टैंड की वजह से हटा दिया गया. असल में सच्चाई कुछ और है, सूत्रों से हमें ये मालूम हुआ है कि इस हिंदी वेबसाइट के मालिक वेबसाइट से ख़ुश नहीं हैं और अब वो इसे बंद करना चाहते हैं. ये छंटनी उसी वजह से की गयी है. सूत्रों के मुताबिक़ ये वेबसाइट धीरे धीरे अपना काम बंद कर देगी.

इस ट्रोल ग्रुप के बारे में वैसे हम आपको बताना चाहेंगे कि ये लगातार विवादों में घिरा रहता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.