हार्दिक पटेल से ना मिलने के पीछे नीतीश कुमार का डर था या धोका देना ही नियति है: तेजश्वी यादव

December 6, 2017 by No Comments

राजद नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजश्वी यादव ने आज एक बार फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है. तेजश्वी ने एक ट्वीट करते हुए नीतीश से पूछा है कि जनवरी में जब हार्दिक पटेल किसान रैली करने जा रहे थे तो एक बार न्यौता स्वीकार कर लेने के बाद उन्होंने मना क्यूँ किया?उन्होंने ट्वीट किया,”नीतीश जी बताए विगत वर्ष जनवरी में उन्होंने @HardikPatel_ के गुजरात में किसान रैली में शिरकत करने के न्यौते को स्वीकार करने के बाद फिर मना क्यों किया? किस डील व डर से पीछे हटे या धोखा देना ही नियति है?”

तेजश्वी ने एक अन्य ट्वीट में बाबा साहब भीम राव आंबेडकर की पुण्य-तिथि पर उन्हें याद किया. उन्होंने कहा,” स्वतंत्रता,बराबरी, सामाजिक न्याय के अगुआ भारतीय संविधान के निर्माता भारत रत्न बाबासाहब अम्बेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि व शत्-शत् नमन।”

कुछ अन्य ख़बरें, एक नज़र में
1. बाबरी मस्जिद की शहादत की 25वीं बरसी होने पर सुरक्षा के पुख्ता इन्तिज़ाम किये गए हैं. इस मामले में मंत्री हंसराज अहीर ने कहा कि गृह मंत्रालय की ज़िम्मेदारी है कि देश में शांति और क़ानून का शासन बनाए रखे. उन्होंने कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि समूचे देश में आज शांति रहेगी.
2. गुजरात चुनाव जैसे जैसे नज़दीक आ रहा है वैसे-वैसे कुछ नेता हिन्दू-मुस्लिम मुद्दे को उठाना चाहते हैं. इसमें से कुछ तो ऐसे हैं जो व्यक्तिगत टिपण्णी करने लगे हैं. भाजपा नेता संबित पात्रा ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी के बारे में टिपण्णी करते हुए कहा,”बदलते हुए मौसम का बदलता हुआ परवाना हूँ मैं, गुजरात में जनेउधारी हिन्दू हूँ तो UP-बिहार में मौलाना हूँ”. कांग्रेस ने भाजपा के इस तरह के बयानों की लगातार आलोचना की है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *