क्या है AIMIM का इतिहास, क्यूँ इसके समर्थक इसे मीम कहते हैं…. जानने के लिए पढ़िए

November 20, 2018 by No Comments

तेलंगाना की आल इंडिया मजलिस ए इत्तिहादुल मुस्लिमीन के समर्थकों से जब कभी आप इस पार्टी के बारे में सुनते होंगे तो वो इसे मीम या MIM कहते हैं. हालाँकि इस पार्टी के नाम के हिसाब से इसका शोर्ट फॉर्म AIMIM है तो आख़िर क्या वजह है कि इस पार्टी के समर्थक इसे MIM कहते हैं. आइये हम आपको इस बारे में ही बताते हैं. इस नाम की बात पार्टी के इतिहास में छुपी हुई है.

असल में आल इंडिया मजलिस ए इत्तिहादुल मुस्लिमीन बहुत पुरानी पार्टी है. इसकी स्थापना 12 नवम्बर सन 1927 को हुई. उस समय इसकी स्थापना मजलिस ए इत्तिहादुल मुस्लिमीन (MIM) नाम से हुई. हैदराबाद स्टेट में काम करने वाली ये पार्टी लगातार राजनीतिक और सामाजिक रूप से एक्टिव थी. भारत की आज़ादी के समय हैदराबाद स्टेट ने अपने भाग्य का फ़ैसला नहीं किया था. आख़िर हैदराबाद भारत में शामिल हुआ लेकिन राजनीतिक कारणों की वजह से इस पार्टी को 1948 में पाबंदी झेलनी पड़ी.

तमाम उठा-पटक झेलने के बाद इस पार्टी को दुबारा खड़ा करने की कोशिश हुई. अब्दुल वाहिद ओवैसी जोकि एक वकील थे, उन्होंने इस पार्टी को नए सिरे से आगे बढ़ाना शुरू किया. उन्होंने इस पार्टी को एकदम ही नए सिरे से बनाया और इसका नाम आल इंडिया मजलिस ए इत्तिहादुल मुस्लिमीन रखा. उनके गुजरने के बाद उनके बेटे सुलतान सलाहुद्दीन ओवैसी ने सन 1975 में इस पार्टी का कण्ट्रोल अपने हाथ में ले लिया. उन्होंने सालार ए मिल्लत कहा जाता था जिसका अर्थ होता है समुदाय का कमांडर. इस पार्टी के पहले विधायक भी सलाहुद्दीन ओवैसी थे. उन्होंने 1967 में चारमीनार से चुनाव जीता था, हालाँकि इसके पहले भी वो चुनाव जीत चुके थे. 1962 के चुनाव में वो निर्दलीय लड़े थे और चुनाव अपने नाम किया था.

सन 1984 में सलाहुद्दीन ओवैसी ने पहली बार हैदराबाद लोकसभा सीट जीती हालाँकि तब वो निर्दलीय प्रत्याशी थे. सन 1989 में उन्होंने पार्टी के टिकट पर चुनाव जीता. तब से ये सीट मीम के पास ही है, सन 2004 से यहाँ असद उद्दीन ओवैसी से सांसद हैं. आज ये पार्टी कई राज्यों में प्रभावी है जिसमें महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश जैसे बड़े राज्य भी शामिल हैं. आगे इस पार्टी का भविष्य क्या होगा ये तो आने वाला समय ही बताएगा.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *