यशवंत सिन्हा ने फिर बोला मोदी सरकार पे हमला-‘देश नोटबंदी से उभरा भी नहीं था कि GST आ गया”

नई दिल्ली: भाजपा नेता और पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा के समर्थन में भाजपा के दूसरे नेता भी आ गए हैं. भाजपा नेता शत्रुघन सिन्हा ने उनका समर्थन करते हुए कहा है कि अर्थव्यवस्था में आ रही गिरावट के लिए क़दम उठाये जाने चाहियें.

यशवंत सिन्हा ने आज समाचार एजेंसी ANI को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि आज देश की जनता चाहती है कि रोज़गार मिले, पर जिससे पूछो वो कहते है कि रोज़गार है ही नहीं.

उन्होंने कहा कि वह ख़ुद GST के समर्थक रहे हैं. उन्होंने कहा कि GST को 1 अक्टूबर से लागू किये जाने की बात थी लेकिन सरकार बहुत जल्दबाज़ी में थी और इसे जुलाई में लागू किया गया. यशवंत ने कहा कि बहुत दिनों से हम जानते हैं कि भारत की अर्थव्यवस्था में गिरावट आ रही थी. उन्होंने कहा,”हम इससे पहले की सरकार को दोष नहीं दे सकते क्यूंकि हमें पूरा मौक़ा मिला है”.

सिन्हा ने कहा कि 1.5 साल से अर्थव्यवस्था की हालत धीमी थी और नोटबंदी ने आकर इसमें और असर डाला.उन्होंने कहा कि देश नोटबंदी से उभरा भी नहीं था कि GST आ गया.

लॉन्ग टर्म प्रभाव के सवाल पर सिन्हा ने प्रसिद्द अर्थशास्त्री जॉन मेनार्ड कीन्स का ज़िक्र करते हुए कहा कि कीन्स कहते थे,”In the long run, we’re all dead”.

उन्होंने आगे कहा कि हो सकता है राजनाथ सिंह और पियूष गोयल अर्थव्यवस्था मुझसे बेहतर समझते हों तो उन्हें ये मालूम हो कि भारत विश्व इकॉनमी की बैकबोन है. यशवंत सिन्हा ने कहा कि मैं उनसे पोलाइटली उनकी बात से इनकार करता हूँ.

उन्होंने कहा कि अरुण जेटली को इस सरकार ने वित्त मंत्री बनाया जिसमें डिसइनवेस्टमेंट भी शामिल है, कॉर्पोरेट भी है और इसके बाद उन्हें डिफेंस भी दे दिया गया जो अपने आप में बहुत बड़ा मंत्रालय है. उन्होंने कहा कि एक आदमी पर इतना भार नहीं होना चाहिए.

क़द्दावर नेता ने कहा कि कांग्रेस वित्त-मंत्रियों को अगर छोड़ दिया जाए तो मैं एकमात्र ऐसा व्यक्ति हूँ जिसने 7 बजट पेश किये हैं. सिन्हा ने कहा कि 2014 के पहले हम ये कहते थे कि पालिसी पैरालिसिस है. उन्होंने कहा कि अटल जी की सरकार में वित्त मंत्री था, मैंने कर के दिखाया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.